अंधाधुंध फायरिंग करके दो भाइयों की हत्या

– अवैध शराब की मुखबिरी के संदेह में वारदात
चूरू। राजगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र के गांव राजाबड़ी में बीती रात अंधाधुंध फायरिंग करके दो सगे भाईयों की हत्या कर दी गई। अवैध शराब की मुखबिर के संदेह में दोनों भाईयों को गोलियों से छलनी कर दिया गया था। घटना रात करीब साढ़े 11 बजे की है। राजगढ़ के सरकारी अस्पताल में पुलिस पहरे के बीच शवों का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। जानकारी के अनुसार मृतक 45 वर्षीय राजवीर जाट व उसका भाई 42 वर्षीय आनन्द जाट निवासी राजाबड़ी थे। आनन्द जाट गांव में स्थित शराब ठेका पर सेल्समैन व उसका भाई राजवीर जाट ठेके की गाड़ी पर ड्राईवरी करता था।
शराब ठेका नरेन्द्र निवासी डलाल है। रात को दोनों भाई ठेके पास ही स्थित होटल पर शराब पी रहे थे। इसी दौरान एक गाड़ी में पहुंचे हिस्ट्रीशीटर रविन्द्र उर्फ मिन्टिया, कालू, सुनील, बलवान, रवि व सोमवीर ने वहां आते ही राजवीर जाट व आनन्द जाट पर फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग से इलाके में सनसनी फैल गई। होटल व आसपास के लोग भाग गये। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने राजवीर व आनन्द जाट को राजगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया, वहां दोनों ने दम तोड़ दिया। पुलिस आज दोपहर समाचार लिखे जाने तक शवों का पोस्टमार्टम करवा रही थी। पुलिस ने मृतक राजवीर जाट के पुत्र प्रवीण जाट की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।
राजगढ़ थाना प्रभारी अनिल बिश्रोई ने बताया कि रविन्द्र उर्फ मिन्टिया शराब कारोबार से जुड़ा हुआ है। मिन्टिया को संदेह था कि पिछले दिनों पुलिस द्वारा पकड़ी गई शराब की गाड़ी के बारे में राजवीर जाट व आनन्द जाट ने मुखबिरी की थी। इसी संदेह में दोनों भाईयों की गोली मार कर हत्या कर दी गई। फरार आरोपियों की सरगर्मी से तलाश करवाई जा रही है।