अब आशा सहयोगिन प्रतिदिन दो घण्टे करेगी गृह सम्पर्क कार्य

– समय पर केन्द्र नहीं खुला तो सुपरवाईजर एवं परियोजना अधिकारी होंगे उत्तरदायी
श्रीगंगानगर। महिला एवं बाल विकास विभाग के आयुक्त ने निर्देश जारी किये हैं कि यदि आंगनबाड़ी केन्द्र समय पर नहीं खोला और आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ता निर्धारित समय पर नहीं पहुंचती है तो महिला सुपरवाईजर एवं बाल विकास परियोना अधिकारी इसके लिए उत्तरदायी होंगे।
उन्होंने कहा है कि सहायिका केन्द्र समय से आधा घण्टे पूर्व अर्थात प्रात: 7.30 बजे और आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ता केन्द्र समय से 15 मिनट पूर्व अर्थात प्रात: 7.45 बजे इसके अलावा आशा सहयोगिनी निर्धारित समय प्रात: 8 बजे उपस्थित होकर गतिविधियों का संचालन सुनिश्चित करेंगी।
साथ ही कार्यकत्र्ता आंगनबाड़ी केन्द्र संचालन के बाद प्रति दो घण्टे ग्रह सम्पर्क कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि नीयत समय पर केन्द्र नहीं खुलने अथवा मानदय कर्मी के अनुपस्थिति को गम्भीर माना जाएगा। इसके लिए संबंधित महिला पर्यवेक्षक एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी एवं उप निदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग की जिम्मेदारी होगी कि वे समय-समय पर आंगनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण करते रहें।