अब गांव मेें ही किसानों को मिलेगा कृषि रसायन

– राजफैड के माध्यम से ग्राम सेवा सहकारी समितियां करेंगी वितरण
श्रीगंगानगर। सब कुछ ठीकठाक रहा तो बेहद जल्द किसानों को गांवों में ही कृषि रसायन (पेस्टीसाइड) की उपलब्धता मिल सकेगी। राज्य सरकार इसके लिए प्रयासरत है। इसके प्रभावी होने के बाद खाद, बीज की भांति कृषि रसायन लेने के लिए किसानों को दूर नहीं जाना पड़ेगा।
राजस्थान राज्य सहकारी क्रय-विक्रय संघ लि. (राजफैड) द्वारा ग्राम स्तर पर ग्राम सेवा सहकारी समितियां एवं क्रय-विक्रय सहकारी समितियों के माध्यम से उच्च गुणवत्ता वाले कृषि रसायनों को उपलब्ध करवाया जाएगा। अभी तक सहकारिता विभाग की ओर से सहकारी समितियों के जरिए खाद, बीज ही उचित मूल्य पर किसानों को दिए जा रहे हैं। अधिकांश: किसानों को कृषि रसायन के लिए प्राइवेट विक्रेताओं पर निर्भर रहने के कारण उन्हें उसके लिए अधिक दाम चुकाने पड़ते हैं। ऐसे मेें किसानों को गुणवत्ता से भी समझौता करना पड़ता है। इसी समस्या को देखते हुए राजफैड के माध्यम से किसानों को उनकी आवश्यकता अनुसार सभी कृषि रसायन सहकारी समितियों से उचित दर पर उपलब्ध करवाए जाएंगे। बताया जा रहा है कि इसके लिए कृषि विभाग द्वारा रजिस्टर्ड निर्माताओं से ई-टेेंडर के माध्यम से एफओआर दरें आमंत्रित की गई हैं। कृषि रसायनों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए इन्सेक्टीसाइड एक्ट, 1968 के प्रावधानों के अंतर्गत कीटनाशक रसायन की सप्लाई की जाएगी। इसके लिए समितियों को कीटनाशक रसायनों की आपूर्ति प्रयोगशाला जांच में सैम्पल के मानक पाए जाने पर ही की जाएगी।