अब घंटों में हो जाएगा मोबाइल नंबर पोर्ट

– सरकार कर रही यह तैयारी
नई दिल्ली। दूरसंचार नियामक ट्राई मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) प्रणाली की समीक्षा करने की सोच रहा है ताकि ग्राहकों के लिए एमएनपी प्रक्रिया को सरल व तीव्र बनाया जा सके। एमएनपी वह प्रणाली है जिसमें कोई दूरसंचार ग्राहक अपने मौजूदा मोबाइल नंबर को बनाए रखते हुए किसी दूसरी कंपनी की सेवा ले सकता है।
भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकार ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने बताया कि नियामक इस महीने के आखिर तक इस मुद्दे पर एक परामर्श पत्र जारी करेगा। उन्होंने कहा कि इस पहल का उद्देश्य एमएनपी प्रकिया में लगने वाले समय को कम करना तथा समूची प्रक्रिया को आसान बनाना है। शर्मा ने कहा, ”हम एमएनपी प्रक्रिया को तीव्र करने के लिए परामर्श पत्र ला रहे हैं। परामर्श पत्र का लक्ष्य इस प्रक्रिया में लगने वाले समय को कम करना तथा प्रक्रिया में बदलाव लाना है। हम इस पर काम कर रहे हैं और इसे महीने के आखिर तक जारी किया जाएगा।ÓÓ उल्लेखनीय है कि नियामक ने हाल ही में एमएनपी शुल्क को लगभभग 79 प्रतिशत घटाकर अधिकतम चार रुपए कर दिया था।