अमेरिका में आए हार्वे तूफान के चलते एक और भारतीय स्टूडेंट की मौत

अमेरिका। अमेरिका में आए हार्वे तूफान के चलते एक और भारतीय की मौत हो गई है। भारतीय छात्रा शालिनी को टेक्सास में एक लेक से एक अन्य भारतीय छात्र के साथ बचाया गया था। दिल्ली की रहने वाली 25 वर्षीय शालिनी सिंह, अमेरिका में ए&एम यूनिवर्सिटी से पब्लिक हेल्थ में मास्टर डिग्री की पढ़ाई कर रही थी। शालिनी को तूफान के बाद निखिल भाटिया (अन्य भारतीय छात्र) के साथ पिछले शनिवार लेक के बचाया गया था। निखिल की मौत 30 अगस्त को अस्पताल में हो गई थी, जबकि शालिनी की हालत नाजुक बनी हुई थी। रविवार देर रात शालिनी की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि जिस वक्त तूफान आया उस समय शालिनी और निखिल लेक में तौर रहे थे। जिसके बाद उनके दोस्तों ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को लेक से बहार तो निकाल लिया लेकिन उन्हें मौत से नहीं बचा सके। जयपुर निवासी निखिल भाटिया भी टेक्सास की ए&एम यूूनिवर्सिटी में वाटर रिसर्च की पढ़ाई कर रहा था। कागजी कार्रवाई पूरी न हो पाने के कारण निखिल का अंतिम संस्कार टेक्सास में ही किया गया। गौरतलब है कि अमेरिका के टेक्सास में हार्वे तूफान ने भारी तबाही मचाई है। इस तूफान की चपेट में आने से अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है और लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। अमेरिका में पिछले 13 सालों में आया यह सबसे भयंकर तूफान है।