अशोक परनामी का इस्तीफा

– उप चुनावों में भाजपा की हार के बाद तय माना जा रहा था पत्ता कटना
– नए प्रदेशाध्यक्ष का ऐलान आज शाम या कल तक संभव
जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया। आलाकमान ने इस्तीफा मंजूर कर लिया है। आज शाम या कल तक नए प्रदेशाध्यक्ष का ऐलान हो सकता है।
राज्य में अलवर और अजमेर संसदीय सीट तथा मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर भाजपा की करारी हार के बाद परनामी का पत्ता कटना तय माना जा रहा था। हालांकि परनामी ने इसका खंडन भी किया लेकिन आखिरकार उन्हें इस्तीफा देना ही पड़ा। परनामी को राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किया गया है। परनामी ने दो दिन पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भेजे पत्र में व्यक्तिगत व्यस्तताओं के कारण इस्तीफा देने की बात कही।
सूत्रों के मुताबिक कुछ दिन पूर्व ही भाजपा के महासचिव रामलाल ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से फोन पर वार्ता कर प्रदेशाध्यक्ष बदले जाने के बारे में चर्चा की थी।
महासचिव ने सीएम राजे को अशोक परनामी के इस्तीफे के लिए 3 दिन में इस्तीफा दिलाने की बात कही थी। वहीं सीएम राजे ने मामले को 15 दिन टालने का अनुरोध किया था।
नए प्रदेशाध्यक्ष के लिए कई नाम चर्चा में
नए प्रदेशाध्यक्ष के लिए कई नाम चर्चा में हैं। इनमें केन्द्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, कोटा के सांसद ओम बिड़ला, हवामहल जयपुर के विधायक सुरेन्द्र पारीक, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी और जोधपुर सांसद केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के नाम लिए जा रहे हैं।
बदलेंगे श्रीगंगानगर समेत तमाम जिलाध्यक्ष
परनामी के इस्तीफे के बाद पूरे राज्य में भाजपा के संगठनात्मक बदलाव तय हो गया है। नए प्रदेशाध्यक्ष प्रदेश में अपनी नई टीम बनाएंगे। साथ ही, श्रीगंगानगर समेत तमाम जिलों में भाजपा जिलाध्यक्ष भी बदले जाएंगे। तमाम जिलाध्यक्षों की नियुक्तियां परनामी ने की थीं। कई जिलों में जिला स्तर पर असंतोष भी देखने को मिल रहा है।