अहमदाबाद: पुलिसकर्मियों पर दलित युवक से जूते चटवाने का आरोप, समाज में आक्रोश

अहमदाबाद। यहां अमराईवाड़ी में पुलिस पर दलित युवक से जूते चटवाने का आरोप लगा है। इसे लेकर समाज में रोष है। पुलिस की अपराध शाखा जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक, 29 दिसंबर को एक वांछित आरोपी को पकडऩे के लिए पुलिस अमराईवाड़ी पहुंची थी। पुलिस को देखते ही यहां भीड़ जमा हो गई। सांईबाबा नगर सोसायटी के 37 वर्षीय हर्षद जादव ने एक कांस्टेबल से पूछा कि यहां भीड़ क्यों है। इस पर कांस्टेबल आक्रोशित हो गया। उसने हर्षद को पीटना शुरू कर दिया। यह देख बीचबचाव के लिए आई हर्षद की पत्नी को भी पुलिस ने धक्का मार दिया। हर्षद का आरोप है कि थाने ले जाकर कांस्टेबल विनोदभाई ने उसकी जाति पूछी। इसके बाद उच्च अधिकारियों से माफी मांगने के एवज में जूते चटवाए गए। फिर उसे लोकअप में बंद कर पुलिस ने प्रताडि़त किया। इससे उसकी अंगुली भी फ्रैक्चर हो गई। सुबह उसे उपचार के लिए एलजी अस्पताल ले जाया गया। इसके बाद कोर्ट ने उसे जमानत पर रिहा किया। कोर्ट से रिहा होने के बाद युवक ने पुलिस कर्मियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। युवक के परिजनों और समाज के लोगों ने सोमवार रात को थाने का घेराव कर किया। उधर मामले की गंभीरता को देखते हुए शहर पुलिस आयुक्त ने जांच क्राइम ब्रांच पुलिस को सौंप दी है।