आपदा प्रबंधन के लिए लगाये प्रभारी अधिकारी

– बरसात के दौरान सक्रिय रहने के आदेश
श्रीगंगानगर। मानसून के दौरान अत्यधिक वर्षा के समय आपदा प्रबंधन के लिए नगर परिषद आयुक्त ने प्रभारी अधिकारी लगाये हैं। इस दौरान उन्हें निरंतर सक्रिय रहने के आदेश भी दिए हैं। कार्यवाहक आयुक्त मिलखराज चुघ ने बताया कि मानसून के मद्देनजर पूर्व तैयारी एवं आपदा प्रबंधन के लिए दमकल विभाग में कण्ट्रोल रूम (मो. नं. 0154-2470101 व 101) की स्थापना की गई है। सहायक अभियंता मंगतराय सेतिया को नोडल अधिकारी, स्वास्थ्य अधिकारी नरेश झोरड़ को सहायक नोडल अधिकारी व फायर ऑफिसर गौतमलाल को कण्ट्रोल रूम का प्रभारी नियुक्त किया गया है। यह तीनों अधिकारी जल निकासी की व्यवस्था पर भी निगाह रखेंगे।
इसके अलावा गैराज शाखा के लिए स्वास्थ्य अधिकारी नरेश झोरड़ को प्रभारी अधिकारी लगाया गया है। इनके सहयोग के लिए गैराज अधीक्षक मोहनलाल बेदी व टाइम कीपर समीर कुमार की ड्यूटी लगाई गई है। स्टोर शाखा से आवश्यकता अनुसार सामान उपलब्ध करवाने की जिम्मेदारी अमरसिंह झुंझ को दी गई है। गुरुनानक बस्ती पम्प हाऊस पर सहायक अभियंता सुखपाल कौर को प्रभारी व सफाई निरीक्षक सुमेर सिंह व वायर मैन हीरालाल को सहयोगी लगाया गया है। वाल्मीकि मंदिर पम्प हाऊस पर सहायक अभियंता अनिल जाटोलिया को प्रभारी, सफाई निरीक्षक बलवंत सिंह व वायरमैन कुलदीप कुमार को सहयोगी लगाया गया है। आरयूबी से पानी निकासी के लिए वायरमैन जगदीश मीणा व हीरालाल की ड्यूटी लगाई गई है।
इसके अलावा वार्ड नं. 1 से 16 तक सहायक अभियंता अनिल जाटोलिया, वार्ड नं. 17 से 34 तक कनिष्ठ अभियंता मनदीप कौर व वार्ड नं. 35 से 50 तक सहायक अभियंता सुखपाल कौर प्रभारी अधिकारी रहेंगे। आपदा प्रबंधन के दौरान भोजन व्यवस्था की जिम्मेदारी पैरोकार प्रेम चुघ व वरिष्ठ लिपिक दिनेश शर्मा की रहेगी।