आलू किसानों की आय में हो सकता है इजाफा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार आलू का समर्थन मूल्य बढ़ाएगी। इस बार 487 रुपये क्विंटल था, जबकि आने वाले सीजन में आलू का भाव 600 रुपये क्विंटल किया जा सकता है। आलू खरीद के लिए क्रय केंद्रों की संख्या में भी इजाफा होगा। आगरा और मथुरा समेत प्रदेश के 20 जिलों में आलू की खेती होती है। करीब पांच लाख किसानों का जीवन आलू की कीमत पर चलता है। लेकिन वर्ष 2015 से किसानों को आलू की कीमत नहीं मिल पा रही है। हर साल आलू को फेंका जाता है। लागत भी नहीं निकाल पा रहे हैं किसान। पिछले दिनों विधान भवन, राजभवन और मुख्यमंत्री आवास के पास जब आलू फेंका गया तो सरकार गंभीर हुई। आलू किसानों की समस्या का समाधान करने को मंत्रियों की एक कमेटी बना दी गई है। यह कमेटी किसानों के बीच जाकर पूछेगी कि आलू की खेती पर कितनी लागत आ रही है और कितना दाम मिल रहा है। कितनी कीमत हो जाए जिससे किसानों का नुकसान कम किया जा सके।