इस सीरियल में 9 के लड़के के साथ 18 साल की लड़की ने मनाई सुहागरात

सोनी टीवी के विवादों से घिरे सीरियल ‘पहरेदार पिया की, के कंटेंट को लेकर काफी चर्चा हो रही है। दर्शकों का शो के खिलाफ आक्रोश बढ़ता जा रहा है। यहां तक कि शो पर बैन लगाने की मांग चल रही है। इस सीरियल की कहानी और उसमें दिखाए गए कुछ सीन्स के बाद से ही देश-भर में सीरियल का विरोध किया जा रहा है। ब्रॉडकास्टिंग कंटेंट कंप्लेंट काउंसिल (बीसीसीसी) भी इस सीरियल को लेकर अब हरकत में आया है। बीसीसीसी ने इस डेली सोप के टेलीकास्ट का समय बदलकर रात दस बजे करने का निर्देश दिया है। उसने उससे टेलीकास्ट के वक्त यह भी लिखने को कहा है कि यह बाल विवाह को बढ़ावा नहीं देता। यह सीरियल ‘रतन, नाम के नौ साल के एक लड़के की ‘दीया, नाम की 18 साल की एक लड़की से शादी पर आधारित है। इसका टेलीकास्ट पिछले महीने शुरु हुआ था। कौंसिल ने आज यहां अपनी बैठक के बाद इस चैनल का समय बदलकर रात दस बजे करने का आदेश दिया। यह समय नियंत्रित समय होता है। एक अधिकारी ने कहा कि इसी के साथ यह कथन भी लिखना होगा कि यह बाल विवाह को बढ़ावा नहीं देता है और यह बस एक फिक्शन है। बता दें ‘पहरेदार पिया की, सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हुई है और कई दर्शकों ने इसे बाल विवाह को बढ़ावा देने वाला बताया है। इसका फिलहाल रात नौ बजे प्रसारण होता है। कौंसिल के पास इस सीरियल के बारे में ढेरों शिकायतें पहुंची थीं। समाज की निगाह से देखा जाए तो ये गलत दिखता है।