उत्तराखंड में लावा गिरने से 12 झुलसे, दो गंभीर

हरिद्वार। थिथौला स्थित एक लोहे की फैक्ट्री में लोहे का लावा गिरने के बाद सिलेंडर में ब्लास्ट होने के साथ ही जनरेटर में आग लग गई। इसकी चपेट में आने से फैक्ट्री में काम कर रहे करीब 12 श्रमिक झुलस गए। इनमें से दो की हालत गंभीर है। फैक्ट्री प्रबंधन ने इस मामले को छिपाए रखा और जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस को काफी देर तक अंदर नहीं जाने दिया। लंढौरा क्षेत्र के थिथौला गांव में राणा बार के नाम से लोहे की फैक्ट्री है। रविवार की शाम को फैक्ट्री में लोहे की भट्टी पर काम चल रहा था। बताया गया है कि पिघले हुए लोहे को दूसरी जगह क्रेन की मदद से भेजा जा रहा था। इसी दौरान क्रेन का रस्सा टूट गया। जिससे लोहे का लावा वहां काम कर रहे करीब 12 श्रमिक पर गिर गए। इसकी चपेट में आने से वह बुरी तरह से झुलस गए। इसी दौरान पिघले हुए लावा से वहां पर गैस सिलेंडर में भी ब्लास्ट हो गया।