ऐसे बासी थूक एक महीने में हटाएगा चश्मा

शरीर में पानी की कमी, अनियमित खानपान, दूषित खानपान, तनाव भरा जीवन और प्रदूषण भरे माहौल में ज्यादा वक्त बिताना आंखों के कमजोर होने के सबसे बड़े कारण हैं। इसके अलावा जो लोग हद से ज्यादा फोन, कम्प्यूटर, टीवी और टैबलेट के आगे वक्त बिताते हैं उन्हें आंखों से संबंधित अधिक बीमारियां होने का ज्यादा खतरा रहता है। आजकल लोगों का जिस तरह से लाइफस्टाइल हो गया है, उसमें आंखों का कमजोर होना और चश्मा लगना लाजमी है। इन कारणों से आपकी आंखों की रोशनी कमजोर हो जाती है और आपकी आंखों पर चश्मा चढ़ जाता है।
कई लोगों के तमाम तरह के प्रयासों के बावजूद चश्मा हटने का नाम नहीं लेता है। अगर तमाम प्रयासों के बावजूद आप अपनी आंखों पर लगे चश्मे को नहीं हटा पा रहे हैं तो इसके लिए आपको ना तो किसी चिकित्सक के पास जाने की जरूरत है और ना ही बाजार से महंगी दवाईयां खरीदने की जरूरत है। आज हम आपको आंखों से चश्मा हटाने के लिए एक आसान और जबरदस्त घरेलू नुस्खा बता रहे हैं।
हमारे आसपास आंखों की समस्या से घिरे दो तरह के लोग होते हैं। कुछ लोगों को जन्मजात आंखों से जुड़ी हुई होती है जिससे उन्हें चश्मा चढ़ता है, तो कुछ लोगों को अपने लाइफस्टाइल की वजह से चश्मा चढ़ता है। आजकल के समय में युवा तो दूर छोटे-छोटे स्कूल जाने वाले बच्चों को भी चश्मा चढ़ा हुआ है। अगर आप चश्में से छुटकारा पाना चाहते है तो हम आपको बताते हैं आंखों की रोशनी बढ़ाने और चश्मा हटाने का घरेलू उपाय जिनसे आप आसानी से चश्मे से छुटकारा पा सकते हैं। क्या आप जानते हैं कि बासी थूक हमें स्वास्थ्य से जुड़े कितने लाभ देता है। खासकर बासी थूक हमारी आंखों के लिए बहुत लाभदायक है।
कैसे करें बासी थूक का प्रयोग
बासी थूक यानि कि सुबह की लार हमारे लिए एक औषधी की तरह काम करती है। सुबह उठते ही जो हमारे मुंह में पहला थूक होता है (बिना कुल्ला किए हुए) उसे अपनी आंखों पर लगाने से आंखों का चश्मा तो हटता ही है साथ ही आंखों से जुड़ी अन्य समस्याएं जैसे आंखों का लाल होना, जलन होना आदि रोग भी दूर होते हैं। आयुर्वेद में भी बासी थूक से चश्मा हटाने की बात कही गई है। इसलिए जिन लोगों आंखों से जुड़ी कोई परेशानी है वह सुबह उठकर अपनी आंखों में बासी थूक लगा सकते हैं।