करंट से झुलसे तीन मजदूर

– श्रीगंगानगर में लेंटर मशीन ड्रम ऊपर चढ़ाते समय हुआ हादसा
– तीनों राजकीय चिकित्सालय में उपचाराधीन, दो गंभीर
श्रीगंगानगर (एसबीटी)। जवाहरनगर क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर को भवन निर्माण के लिए लेंटर मशीन का ड्रम ऊपर चढ़ाते समय करंट लगने से तीन मजदूर झुलस गए। निर्माणस्थल पर सुरक्षा के अभाव में ड्रम बांधने वाली लोहे की तार के हाई वोल्टेज बिजली तारों में छूने से हादसा हुआ, जिसके चलते छत पर बैठे तीनोंं मजदूर नीचे आ गिरे। घायलों को तुरंत राजकीय चिकित्सालय में भती करवाया गया। करंट से झुलसने और नीचे गिरने की वजह से इनमें से दो की हालत गंभीर है।
जवाहरनगर के सैक्टर 6-पी 28 मेें डॉ. प्रदीप उप्पल के घर निर्माण कार्य के दौरान यह हादसा हुआ। सैकिण्ड फ्लोर पर लेंटर डालने की तैयारी हो रही थी। मजदूरों ने लेंटर की निर्माण सामग्री ऊपर पहुंचाने के लिए मशीन बांधी थी। इसके बाद ऊपर बैठे मजूदरों ने ड्रम को थामने वाली लोहे की तार को कस दिया। लोहे की तार कसते ही बिजली की हाई वोल्टेज तारों से जा भिड़ी और तुरंत उसमें करंट प्रवाहित हो गया। इससे ऊपर छत पर तीनों मजूदर राम पुत्र गुरदेव सिंह, विजय और आत्मा सिंह पुत्र त्रिलोक सिंह तीनों निवासी श्यामनगर झटका खाकर सिर के बल नीचे आ गिरे। नीचे गिरने से राम और त्रिलोक के सिर से खून बहने लगा। करंट फैलने से छत पर काम कर रहे तीन-चार अन्य मजदूरों ने साथ वाली छत पर कूदकर जान बचाई। नीचे गिरकर घायल हुए तीनों को साथी मजदूर लेकर तुरंत राजकीय चिकित्सालय पहुंचे और उपचार के लिए भर्ती करवाया। करंट से झुलसने और हैड इंजरी के चलते चिकित्सालय में राम और त्रिलोक की हालत गंभीर बनी हुई है जबकि विजय की हालत सामान्य है। चिकित्सकों ने बताया कि हाई वोल्टेज तारों के छूने से आए करंट केे चलते दो मजदूरों की चमड़ी जगह-जगह से फट गई है। नीचे गिरने से सिर में भी चोट आई है।