करंट से मरे कर्मचारी का पोस्टमार्टम

– ठेकेदार मुआवजा देने के लिए तैयार
बीकानेर। बिछवाल पुलिस थाना क्षेत्र के ट्रांसपोर्ट नगर में रविवार को विद्युत लाइन पर काम करते वक्त करंट लगने से मारे गये कर्मचारी के परिजनों को निगम का ठेकेदार मुआवजा देने को तैयार हो गया है। सहमति बनने के बाद परिजनों ने आज सुबह शव का पोस्टमार्टम करवाने की अनुमति दे दी। इस पर पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव घर ले गये। इस मामले में देर रात तक दोनों पक्षों में वार्ता का दौर चल रहा था।
थाना प्रभारी धीरेन्द्र सिंह शेखावत ने बताया कि ठेकेदार का कर्मचारी 24 वर्षीय करपाल सिंह राजपूत पुत्र दयाल सिंह निवासी बीकानेर, ट्रांसपोर्ट नगर में एलटी लाइन पर काम कर रहा था। ऊपर से 11 हजार केवी की लाइन से सिर टकराने पर करपाल सिंह नीचे गिर गया और उसकी मौत हो गई थी। ठेकेदार ने विद्युत लाइन को बंद करवाये बिना ही कर्मचारी करपाल सिंह को खम्भे पर काम करने के लिए भेज दिया था। ठेकेदार कर्मी की मौत के बाद परिजनों ने पीबीएम अस्पताल की मोर्चरी के बाहर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। परिजनों ने मुआवजा देने और परिवार के एक सदस्य को निगम में नौकरी देने की मांग को लेकर शव का पोस्टमार्टम करवाने से इंकार कर दिया था। इस मामले में निगम अधिकारियों, कर्मचारियों व ठेकेदार ने परिजनों के साथ देर रात तक वार्ता की। इसमें ठेकेदार ने परिजनों को लाखों में मुआवजा देने की हां भर दी, इसके बाद मामला निपट गया।