BREAKING NEWS
Search

कहीं आप भी तो नहीं करते गलत तरीके से फोन चार्ज

मार्टफोन में बैटरी की दिक्कत हमेशा ही रहती है। चाहें कितनी भी बड़ी और दमदार बैटरी का स्मार्टफोन क्यों न खरीदा जाए लेकिन यह समस्या लगभग हर यूजर को झेलनी पड़ती है। कभी-कभी तो कॉल करने के समय पर ही फोन की बैटरी खत्म हो जाती है। लेकिन, क्या आप जानते हैं स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ को बढ़ाया जा सकता है? क्या आप जानते हैं कि आज तक आप अपने फोन की बैटरी को गलत तरीके से चार्ज कर रहे थे। इसी से संबंधित हम आपके लिए कुछ तथ्यों की जानकारी लाएं हैं।
1. ज्यादातर लोग यह कहते हैं फोन की बैटरी पूरी तरह से खत्म होने के बाद ही चार्जिंग पर लगाना चाहिए। ऐसे में यूजर्स पूरे दिन बैटरी को इस्तेमाल कर पूरी रात के लिए फोन को चार्जिंग पर लगाकर छोड़ देते हैं।
2. बैटरी बनाने वाली कंपनी कैडेक्स की मानें तो ऐसा करना फोन बैटरी के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। फुल चार्ज होने के बाद भी फोन को चार्जिंग पर लगा छोड़ देना बैटरी के लिए ठीक नहीं है।
3. इस थ्योरी के मुताबिक, फोन को प्लग इन छोडऩे से पावर सोर्स बैटरी में हाइ-स्ट्रेस बनाता है। क्योंकि पावर सोर्स बैटरी को 100 फीसद रखने के लिए लगातार ट्रिकल चार्ज करता रहता है। ऐसे में बैटरी 100 फीसद पूरी होते ही फोन को चार्जिंग से हटा देना चाहिए।
4. वास्तव में, इस वेबसाइट के मुताबिक, बैटरी को एक बार में चार्ज करने से बेहतर है कि उसे थोड़ी-थोड़ी देर पर चार्ज किया जाए।
5. यह साइट लिथियम बेस्ड बैटरीज को ज्यादा समय तक ठीक रखने के लिए गाइडलाइन्स जारी करती है। फोन को हमेशा मॉडरेट तापमान पर चार्ज करना चाहिए ना कि फ्रिजिंग तापमान पर। लिथियम बैटरी को थोड़ी-थोड़ी देर पर चार्ज करना ज्यादा बेहतर होता है।
6. अगर फोन की बैटरी या चार्जर चार्जिंग के समय ज्यादा गर्म हो जाती है तो उसे तुरंत बदल लें।