किसानों की 13 टीमों ने जनसम्पर्क में ताकत झोंकी

श्रीगंगानगर। अखिल भारतीय किसान सभा व किसान संघर्ष समिति के नेतृत्व में अपनी विभिन्न मांगों को लेकर कलक्ट्रेट के समक्ष 11 सितम्बर को किसान प्रशासन ठप करेंगे। किसानों का बेमियादी पड़ाव 1 सितम्बर से चल रहा है।
अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय कौंसिल सदस्य श्योपतराम मेघवाल, विजय रेवाड़, अनिल गोदारा, रिछपाल सिंह, किसान संघर्ष समिति के प्रवक्ता सुभाष सहगल्र सहित कई नेताओं ने आज मोहनपुरा, कोनी, रेणुका, मिर्जेवाला, दौलतपुरा आदि गांवों का जनसम्पर्क किया। श्योपतराम मेघवाल ने आरोप लगाया कि किसान लम्बे समय से अपनी जायज मांग को लेकर संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन सरकार व प्रशासन संवेदनहीन बना हुआ है। 11 सितम्बर को किसान सरकार की सारी व्यवस्था ठप कर देंगे। इसके लिए पूरे जिले में जनसम्पर्क के लिए 13 टीमें कार्य कर रही हैं। किसान की सब्र का बांध टूट चुका है और वह अब आर-पार की लड़ाई लड़ेगा।