धनबाद। किसी कारण से अगर विदेश से तेल आपूर्ति बंद हो जाए या दाम एकाएक आसमान छूने लगे तो क्या होगा ऐसी ही चिंता के मद्देनजर भारत सरकार ऊर्जा सुरक्षा के लिए सामरिक व आर्थिक नजरिए से कोयला से तेल निकालने की योजना पर काम कर रही है। नीति आयोग के दिशा-निर्देश पर कोयला मंत्रालय ..." />
Breaking News

कोयला से तेल बनाने को भारत तैयार, ऐसा करने वाला दुनिया का तीसरा देश बना

धनबाद। किसी कारण से अगर विदेश से तेल आपूर्ति बंद हो जाए या दाम एकाएक आसमान छूने लगे तो क्या होगा ऐसी ही चिंता के मद्देनजर भारत सरकार ऊर्जा सुरक्षा के लिए सामरिक व आर्थिक नजरिए से कोयला से तेल निकालने की योजना पर काम कर रही है। नीति आयोग के दिशा-निर्देश पर कोयला मंत्रालय इस दिशा में कवायद कर रहा है। इस नायाब पहल के तहत करोड़ों रुपए की लागत से फिलहाल एक बड़ा कारखाना लगाने की योजना पर मंथन चल रहा है। निकट भविष्य में ही निर्णय संभावित है। दक्षिण अफ्रीका व अमेरिका के बाद भारत दुनिया का तीसरा ऐसा देश होगा, जहां इस तरह का वाणिज्यिक कारखाना होगा। केंद्र सरकार के निर्देश पर धनबाद स्थित केंद्रीय खनन एवं ईंधन अनुसंधान संस्थान (सिंफर) के वैज्ञानिकों ने कोयला से तेल बनाने की स्वदेशी तकनीक विकसित कर ली है।

Related Posts

error: Content is protected !!