खल व्यापारी से 21 लाख लूटने वाली गैंग सिरसा में काबू

– कई राज्यों में करते थे वारदात
हनुमानगढ़। भादरा कस्बे में खल व्यापारी से पिस्तोल की नोक पर स्विफ्ट डिजायर कार व 21 लाख रुपए की नगदी लूटने वाली गैंग सिरसा में सीआईए स्टाफ के हत्थे चढ़ गई है। सीआईए स्टाफ इस गैंग में शामिल शातिर बदमाशों से कड़ी पूछताछ कर रहा है। भादरा पुलिस अब सीआईए स्टाफ से सम्पर्क साध रही है। इस गैंग के पकड़े जाने से हरियाणा, पंजाब व राजस्थान में लूट की कई वारदातों से पर्दा उठने की संभावना है।
सिरसा सीआईए स्टाफ के इन्सपेक्टर अजय ने बताया कि गैंग से पूछताछ की जा रही है। युवकों ने कई राज्यों में वारदात करना बताया है। भादरा में व्यापारी से 21 लाख रुपए की लूट भी इस गैंग ने की थी। इस गिरोह के बारे में आज शाम तक खुलासा करेंगे। पूछताछ के दौरान लूट की कई वारदातों का खुलासा होने की उम्मीद है। इस गैंग से जहां-जहां वारदात की, सीआईए स्टाफ वहां की पुलिस से सम्पर्क कर रहा है।
गौरतलब है कि आदमपुर का खल व्यापारी मुकेश सिंगला श्रीगंगानगर जिले के रावला घड़साना एरिया में दुकानदारों से खल का भुगतान लेकर वापिस आदमपुर जा रहा था। भादरा में मूर्ति चौक के निकट कार खड़ी करके मुकेश सिंगला कुछ व्यापारियों से बातचीत कर रहा था। इसी दौरान वहां आये तीन युवकों में से एक युवक ने कार चालक की कनपटी पर पिस्तोल तान लिया और चालक को नीचे उतार कर स्वि$फ्ट डिजायर कार (नम्बर एचआर-20 एबी-5455) को लेकर फरार हो गये।
वारदात के दिन रात को भिरानी पुलिस थाना प्रभारी रामकुमार लेघा हरियाणा बॉर्डर कार को बरामद कर लिया। पुलिस को देख कर अज्ञात लुटेरे कार को छोड़ कर फरार हो गये। कार में 21 लाख रुपए थे। पुलिस ने कार से तीन लाख रुपए बरामद कर लिए थे। मुकेश सिंगला खल का बड़ा व्यापारी है। भादरा पुलिस ने अज्ञात लुटेरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। अब हरियाणा के सीआईए स्टाफ द्वारा लुटेरों की गैंग पकड़े जाने पर भादरा पुलिस ने राहत की सांस ली है।