खूबसूरती पहचानते हैं तो इस फिल्ड में बनाए करियर

आज फैशन और फिटनेस को लेकर लोग काफी जागरूक हो रहे हैं। अपनी पर्सनल ग्रूमिंग पर अधिक पैसा खर्च करने को भी तैयार हैं। यही कारण है कि महानगरों से लेकर हर छोटे-बड़े शहर में आए दिन ब्यूटी पॉर्लर और सैलून खुलते जा रहे हैं। आज की तारीख में भारत में कॉस्मेटोलॉजी करोड़ों रुपए की इंडस्ट्री बन चुकी है। इनकी सालाना ग्रोथ रेट भी करीब 13 फीसद है। कॉस्मेटोलॉजी में विशेषज्ञता प्राप्त लोगों को कॉस्मेटोलॉजिस्ट, ब्यूटीशियन और एस्थेटिशियन कहा जाता है।
एक कॉस्मेटोलॉजिस्ट चेहरे और बालों की ब्यूटी थैरेपी के माध्यम से ग्राहकों की खूबसूरती को बढ़ाता है, उन्हें एक नया रूप देता है। इतना ही नहीं, अगर चेहरे पर झुर्रियां, आंखों के नीचे सूजन, मसल टोन में कमी जैसी कोई समस्या है, तो उसका भी ट्रीटमेंट किया जाता है। कॉस्मेटोलॉजिस्ट में कई ब्रांचेज हैं, जिसमें आप अपनी पसंद के अनुसार एरिया चुनकर हेयर स्टाइलिस्ट, ब्यूटी थैरेपिस्ट, स्किन केयर स्पेशलिस्ट, ब्यूटिशियन, नेल टेक्नीशियन, इलेक्ट्रोलॉजिस्ट के रूप में करियर बना सकते हैं।
जॉब के मौके: दिल्ली स्थित यूरो क्रोमा इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्मेटोलॉजी (ईसीआइसी) के सह-संस्थापक और निदेशक नलिन वर्मा के अनुसार, ‘सौंदर्य उद्योग में कॉस्मेटोलॉजी इस समय सबसे आकर्षक करियर विकल्पों में से एक है। यह एक अनूठा कार्यक्षेत्र भी है, जिसमें न केवल महिलाएं, बल्कि पुरुष भी इसे सीखकर एक सफल करियर बना सकते हैं।Ó
इस फील्ड में प्लेटफॉर्म आर्टिस्ट, पर्सनैलिटी स्टाइलिस्ट, ऐड स्टाइलिस्ट, सैलून क्रिएटिव डायरेक्टर, मेकअप आर्टिस्ट, एस्थेटीशियन या फिरवेडिंग/इवेंट स्टाइलिस्ट के तौर पर कई नए करियर विकल्प भी सामने आ रहे हैं, जहां अनुभव और प्रतिष्ठा बढऩे के साथ-साथ कमाई भी बहुत है। ऐसे प्रोफेशनल्स के लिए नौकरी की कोई कमी नहीं है।
कोर्स के बाद एक प्रशिक्षित कॉस्मेटोलॉजिस्ट ब्यूटी पॉर्लर, लग्जरी सैलून से लेकर किसी भी आलिशान होटल या रिसॉट्र्ज में अपने लिए जॉब तलाश सकते हैं। टीवी और फिल्म उद्योग में भी मेकअप प्रोफेशल्स के रूप में इनकी हमेशा मांग होती है। फैशन शोज से लेकर किसी भी वेडिंग इंवेट के आयोजन में भी ऐसे लोगों की आजकल काफी पूछ है। चाहें, तो खुद का बॉडी केयर सेंटर भी खोल सकते हैं। इमेज कंसल्टेंट के तौर पर लेखन और अध्यापन कार्य कर सकते हैं।
कोर्स और योग्यता: कॉस्मेटोलॉजी के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए वैसे तो कोई बहुत ऊंची औपचारिक डिग्री की आवश्यकता नहीं है। लेकिन कई संस्थान इस कोर्स में प्रवेश के लिए बीएससी या ग्रेजुएट डिग्रीधारियों को प्राथमिकता देते हैं। इसके अलावा, आजकल कई प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स भी हैं, जो सौंदर्य प्रसाधन में डिप्लोमा और शॉर्ट टर्म कोर्स ऑफर कर रहे हैं, जिसमेंआगे चलकर आप ब्यूटी थैरेपी, हेयर स्टाइलिंग, मेकअप, मसाज, फेशियल, एरोमाथेरेपी जैसे क्षेत्रों में स्पेशलाइजेशन करके अलग-अलग पहचान बना सकते हैं।
सैलरी: नए प्रोफेशनल को शुरुआत में दो से चार लाख रुपए सालाना का पैकेज आसानी से मिल जाता है। इस क्षेत्र में डिग्रीधारी पेशेवर तो प्रतिमाह 50 हजार रुपए तक पाते हैं। कुछ अनुभव के बाद स्वतंत्र रूप से काम करके अच्छे पैसे कमाएं जा सकते हैं।
प्रमुख संस्थान:
– नेशनल वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट फॉर वुमेन, नोएडा, मुम्बई, कोलकाता
– यूरो क्रोमा इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्मेटोलॉजी, दिल्ली
– शहनाज हुसैन इंटरनेशनल ब्यूटी एकेडमी, नई दिल्ली
– जावेद हबीब एकेडमी, मुम्बई