BREAKING NEWS
Search

चढऩे लगा छात्रसंघ चुनाव का रंग

– शाम तक जारी होंगी मतदाता सूचियां
श्रीगंगानगर। महाविद्यालयों में होने वाले छात्रसंंघ चुनाव को लेकर युवाओं पर रंग चढऩे लगा है। सरकारी हो या निजी, सभी महाविद्यालयों में साम-दाम-दण्ड-भेद की नीति को अपनाते हुए सम्भावित उम्मीदवार छात्र मतदाताओं को रिझाने का प्रयास कर रहे हैं। सभी महाविद्यालयों में निर्वाचक मण्डल गठित कर मतदाता सूचियां जारी की जा रही है। एसडी बिहाणी पीजी कॉलेज सहित कुछ निजी महाविद्यालयों में मतदाता सूचियां मंगलवार दोपहर तक चस्पा कर दी गईं थीं, जबकि चौधरी बल्लूराम गोदारा कन्या महाविद्यालय व डॉ. बीआर अम्बेडकर राजकीय महाविद्यालय में मतदाता सूचियां दोपहर बाद जारी की जायेंगी। यहां मंगलवार से परिचय पत्र दिखाने के बाद ही छात्रों को प्रवेश की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।
जारी होने वाली मतदाता सूचियों पर 17 अगस्त दोपहर तक आपत्तियां दर्ज की जा सकती हैं। इसी शाम को मतदाता सूचियों का अन्तिम प्रकाशन किया जायेगा। 19 अगस्त को नामांकन पत्र भरे जायेंगे। 20 अगस्त को नामांकन सूचियां प्रकाशित होंगी। अन्तिम नामांकन सूची भी इसी दिन दोपहर बाद जारी होगी। 24 अगस्त को सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक मतदान करवाया जायेगा। मतदान के एक घंटे बाद मतगणना शुरू करवा दी जायेगी।
कैम्पस से बाहर प्रचार : लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों पर छात्रसंघ चुनाव पर लागू नियमों की अनदेखी भी हो रही है। कमेटी के नियमों के अनुसार छात्र उम्मीदवार कॉलेज कैम्पस से बाहर चुनाव प्रचार व जनसम्पर्क नहीं कर सकते, लेकिन यहां अनेक निजी महाविद्यालयों के छात्र नेता खुलकर कॉलेज कैम्पस से बाहर प्रचार कर रहे हैं। प्रचार के लिए साधनों का इस्तेमाल भी हो रहा है। रविवार व सोमवार को स्वतंत्र दिवस का अवकाश होने के कारण छात्र उम्मीदवार छात्र मतदाताओं के घरों तक जनसम्पर्क करते नजर आये। चुनाव प्रचार पर खुलकर खर्च किया जा रहा है।
नामांकन के बाद होगी कार्रवाई : लिंगदोह कमेटी के नियमों का उल्लंघन करने वाले छात्र नेताओं के खिलाफ नामांकन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद कार्रवाई की जा सकेगी। सभी महाविद्यालयों मेें निर्वाचक मण्डल का गठन कर दिया गया है। निर्वाचन मण्डल के सदस्य ही उम्मीदवारों के चुनाव प्रचार के तौर तरीकों और इस पर होने वाले खर्च पर निगाह रखे हुए हैं। नियमों की अनदेखी या उल्लंघन करने वाले छात्र नेताओं के खिलाफ कार्रवाई के लिए संबंधित महाविद्यालय, पुलिस प्रशासन का सहयोग भी लेगा।