चीफ सेक्रेट्री अशोक जैन को मिल सकता है एक्सटेंशन

जयपुर। चीफ सेक्रेटरी अशोक जैन को राज्य सरकार एक्टेंशन का तोहफा दे सकती है. सूत्रों के अनुसार सरकार ने अशोक जैन को उपराष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री के संभावित दौरे की अहम जिम्मेदारी सौंपी है. उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू 6 एवं 7 जनवरी को टोंक एवं जयपुर के राजकीय दौरे पर आ रहे हैं. इसी प्रकार पीएम नरेंद्र मोदी का14 जनवरी को संभावित दौरा है. ऐसे में राज्य सरकार ने चीफ सेक्रेटरी अशोक जैन को राजकीय दौरे की अहम जिम्मेदारी सौंपी है.
अशोक जैन ही चीफ प्रोटोकॉल अधिकारी की जिम्मेदारी निभाएंगे. उल्लेखनीय है कि 31 दिसंबर को चीफ सेक्रेटरी का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. उक्त संभावनाओं को देखते हुए जैन के सेवा काल में 3 माह की बढ़ोतरी के कयास लगाए जा रहे हैं. सूत्रों के अनुसार चीफ सेके्रटरी ने अफसरों को अपने विदाई समारोह का आयोजन नहीं करने के भी निर्देश दिए है. हालांकि, चर्चा यह है कि यदि जैन को एक्सटेंशन नहीं मिलता है तो वरिष्ठ आईएएस अधिकारी गुरजौत कौर, विपिन चंद्र, राजहंस उपाध्याय, डीबी गुप्ता और एनसी गोयल में से एक अफसर को राज्य की ब्यूरोक्रेसी की कमान सौंपी जा सकती है।