जापान में तीन लाख भारतीयों को मिलेगा काम करने का मौका

नई दिल्ली। कैबिनेट ने ऐसे कुछ फैसलों पर मुहर लगाई है जो भारत व जापान दोनों देशों के लिए आने वाले दिनों में काफी फायदे का सौदा साबित होंगे। इसमें एक फैसला तीन लाख प्रशिक्षित भारतीय युवा कामगारों को जापान में काम करने का मौका देगा। पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में जापान के साथ टेक्नीकल इनटर्न ट्रेनिंग प्रोग्र्राम (टीटीटीपी) समझौता करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। इसके बारे में कौशल विकास, पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि इसके तहत तीन लाख भारतीय युवाओं को तीन से पांच वर्षों के लिए जापान भेजा जाएगा। ये युवा भारत में भी स्किल इंडिया कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित किए जाएंगे और जापान में भी इन्हें विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। ये जापान में काम करने के साथ ही प्रशिक्षण भी हासिल करेंगे। अगले तीन साल में जापान की वित्तीय सहायता पर इन युवाओं को जापान भेजा जाएगा।