जेल अधिकारियों ने माना शशिकला को मिला था स्पेशल ट्रीटमेंट, जांच शुरू

कर्नाटक। कर्नाटक के जेल प्रशासन ने माना है कि एआईएडीएमके की महासचिव वीके शशिकला को यहां स्पेशल ट्रीटमेंट दिया गया था। प्रशासन के कबूलनामे के बाद मामले की गंभीर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जेल में किसी नेता को स्पेशल फैसेलिटीस और भ्रष्टाचार का खुलासा उस वक्त हुआ, जब डीआईजी डी रूपा ने अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। सूत्रों के मुताबिक उनकी रिपोर्ट में ये पता चला था कि जेल में शशिकला की ओर से करीब दो करोड़ रुपये दिए गए जिसमें स्पेशल किचन, पांच कमरे, कोट, बेड और टेलिविजन जैसी सुविधाएं पाईं। कर्नाटक विधानसभा की पब्लिक अकाउंट्स कमेटी की बैठक के दौरान जेल के उच्च अधिकारियों ने स्पेशल ट्रीटमेंट की बात कबूली है। इस कमेटी के अध्यक्ष बीजेपी विधायक और पूर्व गृहमंत्री आर अशोक हैं, जिन्होंने प्रशासन को अपनी 15 दिन के अंदर जांच रिपोर्ट देने को कहा है। बता दें कि जेल में वीवीआईपी ट्रीटमेंट देने का आरोप लगाने वाली डीआईजी डी रूपा का ट्रांसफर कर दिया गया है। डी रूपा का ट्रांसफर ट्रैफिक डिपार्टमेंट में किया गया है। डीआईजी डी रूपा के ट्रांसफर पर कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि यह प्रशासनिक प्रक्रिया का हिस्सा है। वहीं मीडिया के सवालों से बचते हुए उन्होंने कहा कि मीडिया को सबकुछ बताना जरूरी नहीं है।