जेल में बंद पति को देने आई थी नशीला पदार्थ

– जेल प्रहरियों की जांच में पकड़ा गया सफेद पाउडर
– जींस की पेंट में छुपा कर लाई थी
श्रीगंगानगर। केन्द्रीय कारागृह में बंद अपने पति को नशीला पदार्थ देने पहुंची पत्नी पकड़ी गई। रविवार को जेल प्रहरियों की गहन जांच पड़ताल के दौरान जींस की पेंट के बेल्ट में छुपा गया सफेद पाउडर पकड़ा गया। जेल प्रशासन ने इस मामले को गंभीर मानते हुए महिला को वहां बैठा लिया और कोतवाली पुलिस को सूचना दी।
जेल अधीक्षक राजपाल सिंह ने बताया कि रविवार को दोपहर 12:50 बजे शालू निवासी सादुलशहर जेल में बंद अपने पति को जींस की दो पेंट देने पहुंची। बाहर सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों ने दोनों पेंटों को जेल के अंदर पहुंचा दिया। बंदी के पास पहुंचने से पहले भीतर तैनात जेल कर्मचारियों ने जींस की पेंटों की गहनता से जांच पड़ताल की, तो बेल्ट के अंदर सफेद प्लास्टिक की लम्बी पाइपनुमा थैली होने का आभास हुआ। पेंट के बेल्ट की सिलाई उखाडऩे के बाद थैली को बरामद कर लिया गया। इस थैली में सफेद पाउण्डर भरा हुआ था।
यह पेंटें बंदी रोहताश पुत्र सुरेन्द्र सिंह निवासी सादुलशहर के पास पहुंचानी थी। जेल अधीक्षक ने बताया कि सफेद पाउण्डर का वजन करीब 30 ग्राम था। इसके नशीला होने की संभावना जताई जा रही है। उन्होंने बंदी रोहताश की पत्नी शालू को वहां बैठाने के बाद कोतवाली पुलिस को सूचना दी। इस पर एएसआई राजेन्द्र कुमार मौके पर पहुंचे और सफेद पाउण्डर को कब्जे में ले लिया।
जेल अधीक्षक राजपाल सिंह ने बताया कि जिस बंदी रोहताश की पेंटों में सफेद पाउण्डर जेल में पहुंचाने का प्रयास किया है, वह बंदी भी एनडीपीएस केस में न्यायिक हिरासत में है। आशंका है कि बंदी भी नशे का आदी रहा होगा।
कोतवाली पुलिस ने बताया कि सफेद पाउण्डर को फिलहाल धारा 102 में जब्त किया गया है। इसकी एफएसएल जांच करवाई जायेगी। जांच रिपोर्ट में नशीला पदार्थ पाए जाने पर ही मुकदमा दर्ज किया जायेगा। अभी केवल नशीला पाउण्डर होने की आशंका है। महिला का नाम पता लेकर उसे छोड़ दिया गया है।