जेल में मां से मिलकर राम रहीम हुआ भावुक

पंचकूला। साध्वी रेप केस में सजा काट रहा राम रहीम जेल में मां से मिलकर भावुक हो गया। जेल में मां से मिलते वक्त वह भावुक हो गया। परिजनों ने उसे सर्द रातों से बचने के लिए एक कंबल भी दिया, जिसे वह जेल प्रशासन की ओर से मिले कंबल के साथ मिलाकर ओढ़ सकता है।
सूत्रों ने बताया कि ठंड से बचने के लिए राम रहीम धूप सेंकता नजर आता है। कल उसकी मां नसीब कौर सुनारिया जेल में मुलाकात के लिए पहुंची। उनके साथ बेटा जसमीत, बेटी अमरप्रीत और दामाद रुहमीत, दूसरी बेटी चरनप्रीत भी मौजूद थे। इस दौरान राम रहीम की 20 मिनट तक परिजनों से मुलाकात हुई। मां को देखकर भावुक हो उठा। राम रहीम की गुफा वातानुकूलित थी और उसमें लगे ब्लोअर से निकलने वाली गर्म हवाओं के बीच सोने का आदी था। अब वह सुनारिया जेल में ठंड से परेशान है। सुनारिया जेल बलुई मिट्टी पर बनी है और चारों ओर का इलाका खुला हुआ है। ऐसे में शाम होते ही कोहरे के चलते जेल की दीवारें और फर्श ठंडी हो जाता हैं। सोने के लिए कैदियों को कंबल दिया जाता है। वहीं लगातार गिरते तापमान से ठिठुरन बढ़ती जा रही है। परिजनों की ओर से उसे जेल में एक कंबल उपलब्ध कराया गया है।