झोपड़ी में जिन्दा जल गया बालक

– तीन बच्चें को परिजनों ने बचाया
चूरू। खेत में बनी ढाणी में आज सुबह झोपड़ी में आग लगने एक बालक जिन्दा जल गया। इस घटना में जिन्दा जलने से तीन बच्चों को बचा लिया गया। घटना बिदासर पुलिस थाना क्षेत्र की ढाणी चक तालास में आज सुबह करीब साढ़े दस बजे की है।
घटना की इतला मिलने पर थाना प्रभारी प्रहलाद रॉय, तहसीलदार व एम्बूलैंस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बताया कि जिन्दा जले बालक की पहचान दस वर्षीय रणवीर मेघवाल पुत्र केसराम मेघवाल के रूप में हुई। खेत में बनी ढाणी में रहने वाले लोग अपना-अपना काम कर रहे थे। घर में खाना खाकर परिवार के कुछ लोग खेत में काम करने चले गये। चार बच्चे झोपड़ी में बैठे थे। इसी दौरान सुबह साढ़े दस बजे झोपड़ी में आग लग गई। बच्चों के चीखने चिल्लाने की आवाज सुन कर परिवार के लोग दौड़े। तीन बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया, लेकिन एक बालक रणवीर मेघवाल आग से जिन्दा जल गया। उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को सरकारी अस्पताल में पहुंचाया है। वहां उसका पोस्टमार्टम करवाया जायेगा। पुलिस ने बताया कि तीन बच्चों को आग से बचा लिया गया है। झोपड़ी में आग लगने के कारण अज्ञात बताए जाते हैं।