ट्रक के फर्जी कागजात सहित पकड़े गए आरोपी को कारावास

– न्यायालय ने जुर्माना भी लगाया
श्रीगंगानगर। न्यायालय ने ट्रक के फर्जी कागजातों सहित पकड़े गए आरोपी को अलग-अलग धाराओं में कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही उसे जुर्माने की सजा से दंडित किया गया है। जुर्माना नहीं देने पर आरोपी को अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।
प्रकरण के अनुसार पुलिस थाना सदर के उप निरीक्षक जितेंद्र सिंह ने सूरतगढ़ बाइपास पर खड़े ट्रक (आरजे 13जी-1450) की तलाशी ली।
इसमें मौजूद व्यक्तियों की पहचान सतनाम सिंह उर्फ टीडा पुत्र जंगीर सिंह निवासी मुक्तसर और सुरजीत सिंह के रूप में हुई। कागजात चैक किए तो पता लगा कि सतनाम का ड्राइविंग लाइसेंस चैक किया। ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन की आरसी अलग-अलग स्थान से जारी होने के बावजूद एक ही स्याही से बनाया जाना पाया गया।
फोन पर डीटीओ से पूछा तो पता चला कि ट्रक का मालिक अन्य व्यक्ति है। आरसी फर्जी है। आरोपियों को गिरफ्तार कर थाना में मुकदमा दर्ज किया। बाद जांच न्यायालय में चालान पेश किया। प्रकरण विचारण के समय सुरजीत सिंह की मौत हो गई।
सुनवाई के बाद सतनाम सिंह को दोषी पाए जाने पर अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (संख्या-1) विजयप्रकाश सोनी ने आरोपी को धारा 467 मेंं 21 माह कारावास और 1000 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना नहीं देने पर 4 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। इसी तरह धारा 466,468,471,474 और 420 मेंं डेढ़-डेढ़ वर्ष कारावास और 500-500 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना नहीं देने पर 2-2 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। धारा 456और 120बी मेंं 1-1 वर्ष कारावास और 300-300 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना नहीं देने पर 1-1 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।