ट्राउजर्स में पहुंचे बिहार के मुख्य सचिव को कोर्ट की फटकार, पूछा- अपने सीएम से भी ऐसे ही मिलते हैं

पटना/नई दिल्ली। बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार को अपने पहनावे को लेकर सुप्रीम कोर्ट से डांट खानी पड़ गई। कोर्ट ने उन्हें कार्रवाई के दौरान जरूरी शिष्टाचार का उल्लंघन करने के लिए कड़ी फटकार लगाई और सुनवाई अगले दिन के लिए स्थगित कर दी। मंगलवार को बिहार के मुख्य सचिव अनौपचारिक पहनावे में ही सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए थे। 1981 बैच के आईएएस अधिकारी अंजनी कुमार सिंह को जस्टिस जे चेलेमेश्वर और जस्टिस एस अब्दुल नजीर की बेंच ने समन किया था। सुप्रीम कोर्ट ने उनसे बिहार सरकार की तरफ से संपत्ति विवाद पर अपील दायर करने में 4 साल और 23 दिनों की देरी करने पर स्पष्टीकरण भी मांगा। बिहार के मुख्य सचिव मंगलवार को कोर्ट में पेश हुए थे लेकिन बेंच ने सुनवाई करने से इनकार कर दिया क्योंकि उनका पहनावा ठीक नहीं था। कोर्ट ने मामले की सुनवाई स्थगित करते हुए उन्हें बुधवार को औपचारिक पहनावे में आने के लिए कहा। ब्लैक रंग के ट्राउजर्स और बंदगला कोट पहने हुए सिंह ने ड्रेस कोड का पालन नहीं करने के लिए कोर्ट से बेशर्त माफी मांग ली। हालांकि बेंच की नाराजगी तब भी कम नहीं हुई और उन्होंने अंजनी कुमार से पूछा कि क्या वह अपने राजनीतिक आकाओं का भी ऐसे ही अपमान करते हैं।