डीटीओ ऑफिस में एक हफ्ते से जनता के काम ठप

– पक नहीं रही ऑनलाइन कामकाज की खिचड़ी
श्रीगंगानगर। जिला परिवहन अधिकारी कार्यालय में एक दिसम्बर से जनता के कामकाज नहीं हो रहे। न नए ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन लिए जा रहे हैं और न ही पुराने लाइसेंसों का नवीनीकरण किया जा रहा है। जो कोई व्यक्ति इन कामों के लिए डीटीओ ऑफिस पहुंचता है, उसे बैरंग लौटाया जा रहा है। आम लोग इसलिए परेशान हैं क्योंकि निर्धारित तारीख तक लाइसेंस नवीनीकरण की फीस जमा नहीं होने पर उन्हें 1100 रुपए लेट फीस की चपत लगेगी।
हालांकि परिवहन विभाग के जयपुर मुख्यालय स्थित एनालिस्ट कम प्रोग्रामर डीटीओ ऑफिस में कामकाज बंद होने की जानकारी पाकर हैरान हो गए। उन्होंने कहा कि अपडेशन चल रहा है। इसमें कुछ वक्त लगेगा लेकिन कार्यालय का कामकाज थोड़े ही बंद किया जा सकता है। बैक लॉग के आधार पर लाइसेंस नवीनीकरण जैसे काम तो किए ही जा सकते हैं।
यह समस्या डीटीओ ऑफिस का कामकाज एक दिसम्बर से ऑनलाइन होने से उठ खड़ी हुई है। राज्य सरकार ने एक दिसम्बर से सभी डीटीओ कार्यालयों को ऑनलाइन कामकाज के निर्देश तो दे दिए लेकिन कार्यालयों का डेटा संबंधित पोर्टल पर माइग्रेट नहीं हुआ है। इस कारण कम्प्यूटर पर कोई डेटा अभी उपलब्ध नहीं है, लिहाजा, ऑनलाइन एन्ट्री नहीं हो पा रही।
ऐसे में जहां नए लाइसेंस बनवाने की गर्ज से गए लोग निराश लौट रहे है, वहीं पुराने लाइसेंस का नवीनीकरण चाहने वाले परेशान हैं। लीला चौक निवासी रविन्द्र लीला ने बताया कि उनके लाइसेंस के नवीनीकरण का पांच दिसम्बर को अंतिम दिन था। वह इसके लिए डीटीओ ऑफिस गए मगर ‘सिस्टमÓ काम नहीं कर रहा होने की बात कह उन्हें मना कर दिया गया। उनकी फीस नहीं भरी गई। लीला ने कहा कि नवीनीकरण की फीस मात्र चार सौ रुपए है जबकि अब उन्हें बिना कारण ग्यारह सौ रुपए लेट फीस भी अदा करनी पड़ेगी। लीला ने अपनी समस्या डीटीओ जुगलकिशोर माथुर को बताई तो उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि मैं कुछ नहीं कर सकता।
इनके बयां जुदा-जुदा
एक तारीख से समूचा कामकाज ऑनलाइन हो गया है पर हमें अभी तक जयपुर से संबंधित वेब पोर्टल का लिंक नहीं मिला है। जब तक यह लिंक नहीं मिल जाता, तब तक हम कोई काम नहीं कर सकते। अगर लेट फीस लगेगी तो भरनी ही पड़ेगी। हम इसमें कुछ नहीं सकते।
-जुगलकिशोर माथर, जिला परिवहन अधिकरी, श्रीगंगानगर।
पुराना सब डेटा पोर्टल पर माइग्रेट हो रहा है। इसमें कुछ वक्त लगेगा मगर इस कारण काम थोड़े ही बंद किया जा सकता है। पुराने लाइसेंस का नवीनीकरण तो बैक लोग के आधार पर ही हो सकता है। मैं इस बारे मेें डीटीओ से बात करता हूूं।
-दिनेश चंद विजय, एनालिस्ट कम प्रोग्रामर (डिप्टी डायरेक्टर), परिवहन मुख्यालय, जयपुर।