डेरा सच्चा सौदा: गद्दी दिवस के चलते प्रशासन अलर्ट

सिरसा। साध्वियों से रेप मामले में राम रहीम 20 साल की सजा काट रहा है। वहीं हनीप्रीत और आदित्य इंसां पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। पुलिस इन दोनों को पकडऩे के लिए संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इस बीच आज 23 सितंबर को डेरा सच्चा सौदा में गद्दी दिवस है। इस दिन राम रहीम को गुरु गद्दी मिली थी। 23 सितंबर 1990 को डेरा सच्चा सौदा की दूसरी पातशाही शाह सतनाम सिंह महाराज ने संत गुरमीत राम रहीम सिंह को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था। हर साल डेरे में बड़ा आयोजन किया जाता था। डेरे के अनुयायी इसे एक पर्व की तरह मनाते थे लेकिन इस साल डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन की ओर से गद्दी दिवस नहीं मनाया जाएगा। साध्वियों से रेप मामले में राम रहीम के जेल जाने के बाद से गद्दी और डेरे को लेकर संशय बना हुआ है।
पिछले दिनों जब रोहतक की सुनारिया जेल में बंद राम रहीम से मिलने उसकी मां नसीब कौर गई थी तब से ही यह कहा जाने लगा था कि डेरा का नया केयरटेकर राम रहीम ने अपने बेटे जसमीत इंसां को नियुक्त करने की स्वीकृति नसीब कौर को दे दी है। उसके बाद डेरा की चेयरपर्सन विपासना इंसां ने बयान जारी कर दिया कि डेरा का कोई भी नया केयरटेकर नहीं बनेगा। राम रहीम ही डेरा का संचालन जेल से किया करेंगे। इससे डेरा के केयरटेकर की नियुक्ति को लेकर फिलहाल संशय बरकरार है।
इस बार डेरा में गद्दी दिवस को लेकर कोई कार्यक्रम नहीं है। इसके बावजूद डेरा में अनुयायियों की चहल-पहल हो रही है। जिसके चलते प्रशासन हर तरह की स्थिति से निपटने को तैयार है। वैसे डेरा की चेयरपर्सन विपासना इंसां ने वीडियो क्लीपिंग के जरिए यह कह भी दिया है कि इस बार डेरा में गद्दी दिवस को लेकर किसी भी तरह का कोई कार्यक्रम नहीं किया जाएगा।