डोकलाम विवाद पर कार्रवाई की मांग करने वालों पर भड़का चीन, कहा- भारत दुश्मन नहीं

नई दिल्ली। भारत और चीन दोनों ने डोकलाम विवाद को हल कर लिया है, लेकिन चीनी सैनिक इससे खुश नहीं है। डोकलाम एपिसोड पर भारत के खिलाफ मिलिट्री एक्शन की मांग करने वाले सैनिकों से चीनी सरकार नाराज है। यह बयान पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के मेजर जनरल का है। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के मेजर जनरल ने अपने एक लेख में कहा कि भारत विरोधी टिप्पणी कर रहे लोगों को चीन की रणनीतिक स्थित की समझ नहीं है। चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स में चीनी आर्मी के रणनीतिकार मेजर जनरल कियाओ लिआंग ने लिखा कि भारत और चीन दोनों पड़ोसी और प्रतिद्वंदी है, लेकिन सभी प्रतिद्वंदी से दुश्मन की तरह नहीं देखा जा सकता है। पीएलए के वरिष्ठ अधिकारी होने के कारण उन्हें चीनी सत्ता के करीब माना जाता है और ऐसा भी कहा जा सकता है कि वह चीनी सरकार के इशारों पर ऐसा बोल रहे हैं। गौरतलब है कि चीनी सरकार पर भारत के खिलाफ कार्रवाई न करने को लेकर दबाव है। चीनी सैनिक, अपनी सरकार से इस बात को लेकर नाराज हैं कि सरकार ने डोकलाम विवाद पर भारत के खिलाफ कार्रवाई न करके समझौता क्यों किया।