दलीप ट्रोफी मैच में पहली बार होगा गुलाबी गेंद का प्रयोग

msid-52674138,width-400,resizemode-4,ball मुंबई। पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली की अध्यक्षता वाली तकनीकी समिति की ओर से दिए गए सुझावों के बाद आगामी दलीप ट्रोफी के मैच दिन-रात के होंगे। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (क्चष्टष्टढ्ढ) ने गुरुवार को यह घोषणा की। बीसीसाआई ने अपनी घोषणा में यह भी बताया कि इस क्रिकेट फॉर्मेट में पहली बार गुलाबी गेंद का इस्तेमाल किया जाएगा। आगामी सत्र के लिए घरेलू और अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों की घोषणा के लिए मुंबई में हुई बीसीसीआई की ‘टूर प्रोग्राम ऐंड फिक्शर्स समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया। भारत के घरेलू सत्र की शुरुआत सितम्बर में दलीप ट्रोफी के साथ होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इसमें कई शीर्ष क्रिकेट खिलाड़ी खेल सकते हैं। इसमें ऐसे खिलाड़ी भी शामिल होंगे, जो टेस्ट क्रिकेट में अपनी जगह बनाना चाहते हैं। इसमें घर में खेले जाने वाले 13 टेस्ट मैच को ध्यान में रखा जाएगा। बीसीसीआई ने अपनी घोषणा में यह भी कहा कि मार्च 2017 तक कुल 918 मैच खेले जाएंगे, जिसमें रणजी ट्रोफी, विजय हजारे ट्रोफी, मुश्ताक अली ट्रोफी, देवधर ट्रोफी, ईरानी ट्रोफी, महिला क्रिकेट और अन्य क्रिकेट मुकाबले शामिल हैं।




Leave a Reply