BREAKING NEWS
Search

दोषी अधिकारियों व सरपंच से ब्याज सहित वसूली के आदेश

– तीन सामुदायिक भवन होने के बाद भी चौथा गलत तरीके से स्वीकृत करवाया
श्रीगंगानगर। सामुदायिक भवन निर्माण में प्रावधानों के विपरीत वित्तीय स्वीकृति जारी करने के मामले में ग्रामीण विकास एवं पंचातयी राज विभाग के शासन सचिव राजीव सिंह ठाकुर ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगते हुए संबंधित दोषी अधिकारियों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के आदेश दिये हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास कार्यक्रम योजना अन्तर्गत ग्राम पंचायत रिड़मलसर द्वारा गलत जानकारी प्रस्तुत करते हुए सामुदायिक भवन निर्माण वार्ड नं. 13 में दो लाख 78 हजार रुपये की लागत प्रावधानों के विरुद्ध वित्तीय स्वीकृति जारी कर कार्य पर 1.50 लाख रुपये की कार्योत्तर स्वीकृति चाही गई है। ग्राम पंचायत ने पूर्व में तीन सामुदायिक भवन होने के बाद भी ग्राम पंचायत द्वारा गलत जानकारी देकर कार्य की स्वीकृति जारी करवा ली गई। इसलिए ग्राम पंचायत रिड़मलसर से अग्रिम राशि ब्याज सहित जमा करवाने हेतु विकास अधिकारी पदमपुर को पाबंद करना बताया गया था। नियमानुसार किसी भी ग्राम में दो से अधिक सामुदायिक भवनों का निर्माण राज्य सरकार की अनुमति से ही हो सकता है। राजीव सिंह ठाकुर ने निर्दश दिये हंै कि अनियमित रूप से कार्य की स्वीकृति जारी करने वाले जिम्मेदार अधिकारी, कर्मचारियों व सरपंच का उत्तरदायित्व निर्धारित कर कार्य पर खर्च हुई राशि पर ब्याज सहित वसूली की जाए। साथ ही संबंधित दोषियों के विरुद्ध नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही के प्रस्ताव तैयार कर रिपोर्ट भेजें।