नजर आने लगी सत्ता पक्ष के गलियारों में फूट

रायसिंहनगर (एसबीटी)। जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आने को हैं, वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों में कार्यकर्ताओं की पूछ शुरू हो गई है। दूसरी ओर सत्ता पक्ष के नेता जिन कार्यकर्ताओं के बलबूते चुनावी नैया पार करने के सपने देख रहे हैं, उसमें असंतोष गहराता जा रहा है। कार्यकर्ताओं की लगातार उपेक्षा के बाद अब सत्ता पक्ष के गलियारों में फूट की बात सामने आ रही है।
इसी फूट के चलते जानकार सूत्रों की मानें तो भाजपा के एक महत्वपूर्ण पदाधिकारी कुछ दिन में अपना इस्तीफा देकर अपने पद से कार्यमुक्त हो जाएंगे। कार्यकर्ता खुलेआम तो फूट की बात स्वीकार नहीं कर रहे हैं लेकिन अंदरूनी फूट अब जग जाहिर होने लगी है।
माना जा रहा है कि भाजपा का एक गुट जिसे इस महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त करवाना चाहता है, उसे अंदरखाते सक्रिय होने को कह दिया गया है। मौजूदा पदाधिकारी पार्टी गतिविधियों से दूर हैं। ऐसे में जिन कार्यकर्ताओं के बलबूते सत्तापक्ष वापसी के सपने देख रहा है, वही कार्यकर्ता अपने नेताओं के से नाखुश होकर अपने रास्ते तय करने लगे हैं। यह स्थिति कई कार्यकर्ताओं के साथ है। दिन-रात पार्टी के लिए भाग दौड़ करने वाले कई नेता तो अपने वरिष्ठ नेताओं से किनारा कर चुके हैं।
एक और नौकरशाह मैदान में: हाल ही एक और नौकरशाह के चुनाव मैदान में आने की हलचल देखकर नेताओं में खलबली मची हुई है। एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ने सोशल मीडिया पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात के अपने फोटो सार्वजनिक किए थे। इसको लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता उन्हें दावेदार मानने लगे। दावेदारों लिस्ट में पूर्व विधायक सोहन नायक, दौलतराज नायक, राकेश थिंद के साथ संघर्ष समिति अध्यक्ष राजेश सिकरवाल भी शामिल थे, अब ये सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी भी शामिल हो गए हैं।