BREAKING NEWS
Search

निजी-रोडवेज बस चालकों में विवाद

– लोक परिवहन सेवा की बसें बस स्टैंड पर लगाने से बिगड़ा माहौल
श्रीगंगानगर। राजस्थान लोक परिवहन सेवा की बसों को केन्द्रीय बस अड्डे मेें लगाने को लेकर रोडवेज कर्मचारियों और निजी बस संचालकों में गुरुवार सुबह विवाद हो गया। विवाद के चलते एक रोडवेज चालक से मारपीट के बाद दोनों पक्षों में टकराव की स्थिति पैदा हो गई। इस दौरान लोक परिवहन सेवा की बसें बस अड्डे के मुख्य द्वारों पर लगाकर रास्ते जाम कर दिये गये। बाद में पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों की मध्यस्थता से विवाद सुलटाया गया। इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक यात्री परेशान होते रहे।
गंगानगर आगार के महाप्रबंधक मकबूल अहमद ने बताया कि राज्य सरकार की लोक परिवहन सेवा के तहत 70 निजी बसों के लिए परमिट जारी किये गये हैं। लोक परिवहन सेवा की बसें निजी ट्रेवल्र्स द्वारा चलाई जा रही हैं। आज सुबह इन बसों को रोडवेज के बस अड्डे में लगाया जाने लगा। इस पर रोडवेज के चालकों-परिचालकों ने ऐतराज जताया। इस ऐतराज पर निजी बस चालकों और रोडवेज कर्मचारियों में विवाद हुआ। विवाद के चलते रोडवेज बस चालक राजेन्द्र तरड़ से मारपीट भी हो गई।
उन्होंने बताया कि बस अड्डा परिसर रोडवेेज की निजी सम्पत्ति है। इसमेें प्राइवेट बसों को नहीं लगाया जा सकता। पूर्व में भी निजी बस ऑपरेटर इस तरह के प्रयास कर चुके हैं। आज सुबह हुए विवाद के बाद जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर निजी बस ऑपरेटरों को पाबंद करने का आग्रह किया है। मारपीट के बाद राजेन्द्र तरड़ की ओर परिवाद दिया गया है। विवाद के बढऩे पर निजी बस चालकों ने बस अड्डे के दोनों मुख्य द्वार बसों से जाम कर दिये। इस दौरान विभिन्न रूटों पर जाने के लिए तैयार खड़ी रोडवेज की एक दर्जन से अधिक बसें बस अड्डे से बाहर नहीं निकल पाई। इन बसों में सवार यात्री भी परेशान होते रहे। निजी व रोडवेज बस चालकों-परिचालकों में विवाद की सूचना पर भारी पुलिस बल शान्ति व्यवस्था के लिए तैनात कर दिया गया। प्रशासन की ओर से उपखण्ड अधिकारी कैलाशचंद शर्मा ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों से समझाइश की। उपखण्ड अधिकारी को बताया गया कि निजी बसें बस अड्डे मेें नहीं लगाई जा सकती। इसके लिए प्राइवेट बस ऑपरेटरों को पूर्व में ही अतिरिक्त जिला कलक्टर पाबंद कर चुके हैं। वार्ता के दौरान उपखण्ड अधिकारी ने भी निजी बस चालकों को लोक सेवा परिवहन की बसें केन्द्रीय बस अड्डे में नहीं लाने के लिए पाबंद किया है।
नहर पार खड़ी होंगी बसें: राजस्थान लोक परिवहन सेवा की बसें ए माइनर नहर के उस पार खड़ी की जायेंगी। गुरुवार को रोडवेज कर्मचारियों के साथ हुए विवाद के बाद बस ऑपरेटरों को इसके लिए पाबंद किया गया है। उन्हें निजी बसें बस अड्डे के मुख्य द्वार व सामने नहीं लगाने की हिदायत दी गई है।