पत्नी-बेटे की नृशंस हत्या

– हत्यारा युवक हिरासत में
सूरतगढ़। राजियासर पुलिस थाना क्षेत्र के गांव जस्सा भट्टी में बीती रात एक व्यक्ति ने धारदार हथियार से अपनी पत्नी व मासूम बेटी की हत्या कर दी। आज सुबह घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस घटनास्थल से सबूत एकत्रित करने का प्रयास कर रही है। मौके पर मौजूद थाना प्रभारी गणेश बिश्रोई ने बताया कि मृतका 27 वर्षीय सुमन जाट पत्नी रूपराम जाट थी। उसके चार माह के बेटे योगेश की भी हत्या कर दी गई। मकान के एक कमरे में दोनों के रक्तरंजिश शव पड़े हैं। सुमन के पीहर पक्ष को बुलाया गया है। सुजाता का पति रूपराम बाबर घर में नहीं था। ऐसे में आशंका है कि मां-बेटे की हत्या रूपराम ने की है। सुमन व रूपराम की शादी करीब चार वर्ष पूर्व हुई थी।
सुमन का पीहर हनुमानगढ़ के मुंडा गांव में है। सुजाता के चार माह का पुत्र योगेश था। उनके एक करीब तीन वर्ष का एक बेटा भी है। दोनों के सिर में घातक चोटें लगी हैं। खून जमा हुआ है। ऐसे में आशंका है कि दोनों की हत्याएं रात होते ही कर दी गई थी। पुलिस ने आरोपी रूपराम जाट को राउण्डअप कर लिया है। थाना प्रभारी ने बताया कि पीहर पक्ष की ओर से रिपोर्ट लेकर मुकदमा दर्ज किया जायेगा। मां-बेटे के शव को सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया जा रहा है। रूपराम के पकड़े जाने के बाद ही हत्या के पीछे रहे कारणों का पता चल पायेगा। जानकारी के अनुसार रूपराम जाट ने बीती रात पत्नी सुमन व चार माह के पुत्र योगेश की हत्या करने के बाद गांव के कुछ लोगों को इस बारे में बता दिया था। सारी रात में मर्डर की वारदात की सूचना इलाके में फैल गई। आज सुबह सूचना मिलने पर सरपंच अमीलाल कुलडिय़ा भी मौके पर पहुंच गये। रूपराम गांव जस्सा भ_ी के खेत में बनी ढाणी में अपनी पत्नी व बच्चों के साथ रहता था। उसके परिवार के लोग गांव में रहते हैं। रूपराम ने किसी जमीन को चौथे हिस्से पर काश्त करने के लिए ठेके पर ले रखी है। उसकी हार्थिक हालत भी कोई ज्यादा अच्छी नहीं है। रूपराम जाट ने अभी तक पुलिस को हत्या के पीछे रहे कारणों के बारे में नहीं बताया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।