विटामिन सी, ए, पोटेशियम और कैल्शियम और आयरन से भरपूर पपीता स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पपीता पेट, हृदय और लीवर के रोगों और आंतों की कमजोरी को दूर करने में मददगार होता है। पपीते के स्वास्थ्यवर्धक गुण गुणों की खान कहा जाने वाला पपीता आपके पेट के साथ आपकी त्वचा की खूबसूरती ..." />
Breaking News

पपीता खाने के स्वास्थ्यवर्धक कारण

विटामिन सी, ए, पोटेशियम और कैल्शियम और आयरन से भरपूर पपीता स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पपीता पेट, हृदय और लीवर के रोगों और आंतों की कमजोरी को दूर करने में मददगार होता है।
पपीते के स्वास्थ्यवर्धक गुण
गुणों की खान कहा जाने वाला पपीता आपके पेट के साथ आपकी त्वचा की खूबसूरती बढऩे में भी आपकी मदद करता है। यह एक ऐसा फल जिसमें विटामिन सी, ए, पोटेशियम और कैल्शियम और आयरन प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है इसके साथ ही स्वास्थ्य के लिए कई हितकारी गुण निहित होते हैं। पपीते के कुछ बेहतरीन स्वास्थ्य लाभों की सूची यहां पर दी गई है।
वजन घटाने में मददगार
मीठा होने के बावजूद कैलोरी में कम पपीते को वजन कम करने वाले लोगों को अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए। इसके अलावा, पपीता में मौजूद फाइबर आपको संतुष्ट और पूर्ण महसूस करवाने के साथ आंतों के कार्यों को ठीक रखता है जिसके फलस्वरूप वजन घटाना आसान हो जाता है।
आंखों के लिए फायदेमंद
पपीता नेत्र रोगों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन ए की मौजूदगी आंखों की रोशनी को कम होने से बचाती है। इसके सेवन से रतौंधी रोग का निवारण होता है और आंखों की ज्योति बढ़ती हैं।
कोलेस्ट्रोल कम करें
पपीते में फाइबर, विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होता है जो आपकी रक्त-शिराओं में कोलेस्ट्रोल के थक्कों को  बनने देता। कोलेस्ट्रोल के थक्के दिल का दौरा पडऩे और उच्च रक्तचाप समेत कई अन्य ह्रदय रोगों का कारण बन सकते हैं।
माहवारी के दर्द से छुटकारा
पपीते में पैपेन नामक एंजाइम माहवारी के दौरान रक्त के प्रवाह को ठीक कर दर्द को दूर करने में मदद करता है। इसलिए माहवारी के दर्द से गुजर रही महिलाओं को अपने आहार में पपीता को शामिल करना चाहिए।
प्रतिरोधक क्षमता में मजबूती
आपकी इम्यूनिटी विभिन्न संक्रमणों के विरूद्ध ढाल का काम करती हैं। केवल एक पपीते में इतना विटामिन सी होता है जो आपके प्रतिदिन की विटामिन सी की आवश्यकता का लगभग 200 प्रतिशत होता है। इस तरह से ये आपकी प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है।
डायबिटीज के रोगियों के लिए अच्छा
स्वाद में मीठा होने के बावजूद इसमें शुगर नाममात्र का होता है इसलिए पपीता डायबिटीज रोगियों के लिए आहार के रूप में एक बेहतरीन विकल्प है। इसके अलावा, जो लोग डायबिटीज के रोगी नहीं हैं, इसके सेवन से डायबिटीज होने के खतरों को दूर कर सकते हैं।
कैंसर को रोकने में मददगार
कुछ अध्ययनों के अनुसार, पपीते के सेवन से कोलन और प्रोजेक्ट कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। पपीते में एंटी-ऑक्सीडेंट, फीटोन्यूट्रिएंट्स और फ्लेवोनॉयड्स प्रचूर मात्रा में होते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन सी, बीटा कैरोटीन और विटामिन ई शरीर में कैंसर सेल को बनने से रोकते हैं। इसलिए अपने आहार में पपीता शमिल करें।
तनाव कम करें
इस कमाल के फल में तनाव को दूर करने की ताकत होती हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बामा में हुए एक अध्ययन के अनुसार, लगभग 200 मिलीग्राम विटामिन सी स्ट्रेस हार्मोंन को संचालित करने में सक्षम होता है और पपीते में विटामिन सी प्रचुरता में उपलब्ध होता है।
पाचन को दुरुस्त करें
पपीते में फाइबर के साथ-साथ पपैन नामक एक एंजाइम होता है जो आपकी पाचन शक्ति को दुरुस्त रखता है। यह एंजाइम आहार को पचाने में अत्यंत मददगार होता है। जिन लोगों को पेट से संबंधित समस्या जैसे कब्ज की शिकायत हमेशा बनी रहती है, उन्हें पपीते का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए।

Related Posts

error: Content is protected !!