BREAKING NEWS
Search

पानी का प्रेशर ज्यादा होने से टूट रही हैं पाइप लाइनें

– जलदाय विभाग नहीं गम्भीर, पाइप लाइन टूटने से वार्डवासी परेशान
श्रीगंगानगर। शहर में इन दिनों पानी की पाइन लाइनें टूटने का सिलसिला बंद नहीं हो रहा। पाइप लाइन टूटने से हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह जाता है। सर्दी में पानी की कम डिमांड रहती है और जलदाय विभाग दोनों समय पानी पूरी सप्लाई दे रहा है। विभाग की लापरवाही से हजारों लीटर पानी व्यर्थ तो बह ही रहा है साथ ही लोगों को अनावश्यक परेशानी का सामना करना पड़ता है। विगत दिनों भी शहर के कई क्षेत्रों में पाइप लाइन लीकेज से हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह चुका है।
वार्ड नम्बर 29 के पार्षद पवन गौड़ ने बताया कि रविवार की सायं पाइप लाइन लीकेज की सूचना मिली थी। जलदाय विभाग को सूचित कर दिया था। पानी की सप्लाई कल सायं से बंद है। पाइप लाइन लीकेज होने से सड़कों पर पानी फैल गया है। विभाग ने आज सुबह कर्मचारियों को भेजकर पानी लीकेज को दूर करवाया जा रहा है। दोपहर पश्चात पानी की सप्लाई हो सकेंगी। वार्डवासियों ने बताया कि पाइप लाइनों में प्रेशर ज्यादा होने से लीकेज हुई है। कम प्रेशर से पानी छोड़ा जाये तो लीकेज की समस्या कम होगी। पाइप लाइन टूटन से वार्ड नं. 27, 28 व 29 के लोग प्रभावित हुए है। लोग बिना पानी के सुबह से परेशान हो रहे है। नालियां पहले ही ओवरफ्लो रहती है। पाइप लाइन टूटने से सड़कें जलमग्न हो गई है।
इनका कहना है: सर्दियों में पानी की कम डिमांड रहती है और सर्दियों में अक्सर पाइप लाइन लीकेज की समस्या आती है। दोनों समय पानी की सप्लाई दी जा रही है। कम प्रेशर से पानी की सप्लाई नहीं की जा सकती। सूचना मिलने पर कर्मचारियों को भेजा गया है। – विनोद जैन, अधिशासी अभियंता, जलदाय विभाग