Palak Puri Recipe- Spinach Puri Recipe पूरी ज़्यादातर किसी भी त्यौहार या विशेष मौकों पर बनाई जाती हैं। अलग-अलग प्रकार की पूरियां बनाकर आप इन मौकों को और भी खास बना सकते हैं तो क्यों न इस बार पालक की पूरी बनाई जाए। सामग्री: गेहूं का आटा – 2.5 कप पालक – 250 ग्राम तेल ..." />
Breaking News

पालक की पूरी

Palak Puri Recipe- Spinach Puri Recipe
पूरी ज़्यादातर किसी भी त्यौहार या विशेष मौकों पर बनाई जाती हैं। अलग-अलग प्रकार की पूरियां बनाकर आप इन मौकों को और भी खास बना सकते हैं तो क्यों न इस बार पालक की पूरी बनाई जाए।
सामग्री:
गेहूं का आटा – 2.5 कप
पालक – 250 ग्राम
तेल – 2 टेबल स्पून और पूरी तलने के लिए
हरी मिर्च – 1
अदरक – 1/2 इंच टुकडा़
नमक – 1/2 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
जीरा – 1/4 छोटी चम्मच
हींग – 1 पिंच
विधि: पालक का पेस्ट तैयार कीजिए: पालक के पत्तों को तोड़कर अच्छे से धो लीजिए। इसके बाद पालक के पत्तों, अदरक और हरी मिर्च को मिक्सर में डाल लीजिए और पीसकर पेस्ट तैयार कर लीजिए।
सख्त आटा गूंथिए: एक प्याले में आटा लीजिए और आटे के बीच में जगह बनाकर पालक का पेस्ट, नमक, जीरा, हींग और तेल डाल दीजिए। इन सभी सामग्रियों को अच्छी तरह से मिला लीजिए। फिर, आटे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए पूरी के लिए सख्त आटा गूंथकर तैयार कर लीजिए। गुंथे हुए आटे को 20 मिनिट के लिए ढककर रख दीजिए ताकि आटा फूलकर सैट हो जाए। इस आटे को गूंथने में द कप से भी कम पानी लगा है।
पूरियां बेलिए: 20 मिनिट बाद, आटा सैट हो गया है। अब, हाथ पर थोड़ा सा तेल लगा लीजिए और आटे को मसलकर चिकना कर लीजिए। साथ ही, कड़ाही में तेल भी गरम होने रख दीजिए। इसके बाद, आटे से नींबू के बराबर की छोटी-छोटी लोइयां तोड़ लीजिए। इन लोइयों को गोल गोल करके पेड़े की तरह दबाकर रख दीजिए।
सभी लोइयों से पेड़े बनाने के बाद, पूरी बेलना शुरू कर दीजिए। इसके लिए, थोडा़ सा तेल चकले पर लगाकर चिकना कीजिए और एक पेड़ा रखकर बेलन की मदद से 3 से 4 इंच के व्यास में बेल लीजिए। सारी लोइयों को इसी तरह बेलकर तैयार लीजिए। इसी दौरान, कड़ाही में तेल गरम होने रख दीजिए।
पूरियां तलिए: पूरियां तलने के लिए, सबसे पहले तेल चैक कीजिए कि गरम हुआ या नही। आटे की जरा सी लोई तेल में डालकर देखिए। यह सिककर ऊपर आ गई है, तो तेल सही से गरम है। गरम तेल में एक पूरी डाल दीजिए और इसे कलछी से दबाते हुए थोड़ा फुला लीजिए। इसे फुलाने के बाद पलट दीजिए और दूसरी पूरी भी तलने के लिए कड़ाही में डाल दीजिए। पूरियों के फूलने तक और इनको दोनों ओर से हल्का ब्राउन होने तक पलट-पलट कर अच्छे से फ्राय कर लीजिए। पूरियों के ब्राउन होते ही, इनको एक प्लेट में निकालकर रख लीजिए तथा इसी प्रकार सभी पूरियां बनाकर तल लीजिए।
पालक की खस्ता, हरी-हरी, फूली पूरियां बनकर तैयार हैं। इन्हें चटनी, अचार, रायते या अपनी मनपसंद सब्जी के साथ परोसिए और खाइए। पालक पूरी को आप 2 से 3 दिनों तक रख कर आराम से खा सकते हैं। इन स्वादिष्ट पूरियों को आप अपने साथ पिकनिक या किसी भी यात्रा पर पैक करके भी ले जा सकते हैं।

Related Posts

error: Content is protected !!