पीडि़त साध्वी ने इंटरव्यू में कहा

– मुझे अब मिला इंसाफ, राम रहीम से ना तब डरी थी और ना अब डर
चंडीगढ़। डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दो साध्वी से रेप करने के आरोप में 20 साल की सजा हुई है. राम रहीम ने जिन साध्वियों का रेप किया था उनमें से ही एक साध्वी ने अब राम रहीम को सजा मिलने के बाद खुशी जाहिर की है. साध्वी ने कहा कि मुझे आज न्याय मिला है. साध्वी बोली कि वह कभी भी राम रहीम से नहीं डरी थी। एक अंग्रेजी अखबार से बात करते हुए साध्वी ने कहा कि राम रहीम ने मुझे कई बार डराने की कोशिश की, लेकिन ना मैं तब डरी थी और ना मैं अब डरी हूं. उन्होंने कहा कि 2009 में जब मैं कोर्ट में थी, तब भी वो मेरे सामने था। साध्वी ने अपनी आप बीती सुनाते हुए कहा कि जब मैं सिरसा के डेरा सच्चा सौदा के कॉलेज में ही पढ़ती थी, मेरे परिवार वाले राम रहीम के भक्त थे. तभी उसने मेरे साथ ऐसी हरकत की थी।