BREAKING NEWS
Search

पूछताछ की तो पुलिस पार्टी पर हमला

हनुमानगढ़। एएसपी के आदेश पर बोलेरो कैम्पर जीप का पीछा करने वाली हाईवे पेट्रोलिंग पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया गया। जीप सवार लोगों ने सरकारी जीप को नुकसान पहुंचाने के बाद पुलिस कर्मियों के साथ लाठियों से मारपीट की। घटना नोहर की है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार वायरलैस पर एएसपी ने सूचना दी कि भादरा से नोहर आ रही बोलेरो कैम्पर जीप को रोक कर जांच पड़ताल की जाए। इस के आगे-पीछे नम्बर नहीं लिखे हुए हैं। इस सूचना पर मंगलवार शाम को हाईवे पेट्रोलिंग पार्टी का हवलदार मदनलाल व सिपाही अजीत सिंह सरकारी जीप नम्बर आरजे 32 यूए-2903 रवाना हो गये।
पुलिस पार्टी ने रेलवे स्टेशन के सामने नाकाबंदी करके बोलेरो केम्पर को रुकने का इशारा किया, तो चालक ने गाड़ी को बिजली बोर्ड की तरफ भगा लिया। इस पर पुलिस ने जीप का पीछा किया। कैम्पर चालक ने दीपलाना मार्ग पर एक घर के सामने जीप को रोक लिया।
जीप में सद्दाम पठान व चार-पांच औरते नीचे उतरी। पूछताछ के दौरान जीप चालक सद्दाम पठान ने बताया कि वह भादरा में रिश्तेदारी में जाकर आये हैं। तस्दीक करने के बाद हवलदार मदनलाल ने एएसपी को फोन पर जानकारी दी कि जीप लोकल ही है। वह लोग रिश्तेदारी में आकर वापस आये हैं। इस पर एएसपी ने कहाकि जीप चालक को आगे-पीछे नम्बर प्लेट लगवाने और शीशों पर लगी फिल्म हटवाने के लिए पाबंद कर दो। उसने सद्दाम पठान को नम्बर प्लेट लगवाने और शीशों से फिल्म हटवाने के लिए कहा, तो सद्दाम पठान नाराज हो गया। सद्दाम पठान, अरसद पठान, कालू, असलम, अकरम, अजरू पठान व पांच-सात अन्य लोगों ने उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। पास खड़े सिपाही अजीत सिंह ने बीच बचाव किया तो हमलावरों ने उसके साथ भी मारपीट की। हमलावरों ने पथराव करके जीप के शीशे तोड़ दिए। पुलिस कर्मियों का मोबाइल फोन छीन लिया। सूचना मिलने पर थाना से पहुंचे पुलिस कर्मियों ने दोनों पुलिस कर्मियों को बचाया।
पुलिस ने हवलदार मदनलाल की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ मारपीट करने, सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने व राजकार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।