पेट्रोल हो सकता है महंगा, कच्चा तेल ढाई साल के उच्च स्तर पर

नई दिल्ली। कच्चे तेल की कीमतों में तेजी ने तेल आयातक देशों की चिंता बढ़ा दी है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड ऑयल ढाई साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच चुका है। ऐसे में आने वाले समय में पैट्रोल और डीजल की कीमतों में भारी बढ़ौत्तरी हो सकती है। ब्रिटेन के उत्तरी सागर में प्रमुख पाइपलाइन को मरम्मत के लिए बंद कर दिया गया है।
इसकी वजह से कच्चा तेल 65 डॉलर प्रति बैरल के पार चला गया है। वहीं दूसरी ओर बाजार में पहले से ही ओपेक द्वारा उत्पादन में कटौती से सप्लाई कम है। जानकारी के अनुसार फोर्टाइस ऑयल और गैस पाइपलाइन में दरार पडऩे के कारण सोमवार को इसे बंद कर दिया गया। यह ब्रिटेन की प्रमुख पाइपलाइन है जिसके माध्यम से रोजाना 4 लाख 50 हजार बैरल कच्चा तेल उत्तरी समुद्र से स्कॉटलैंड के प्रोसेसिंग प्लांट तक पहुंचता है। फोर्टाइस कच्चा तेल कई ग्रेड तेलों में से एक है जो ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमत तय करता है। ब्रिटेन के पहले बड़े समुद्री तेल क्षेत्र से कच्चा तेल परिवहन करने के लिए फोर्टाइस पाइपलाइन सिस्टम 1975 में खोला गया था। पाइप लाइन बंद होने की खबर के बाद अंतर्राष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड ऑयल 65.20 और 65.35 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर पहुंच गया है। यह 24 जून 2015 के बाद का उच्चतम स्तर है।