प्रेमनगर से हटेंगे अतिक्रमण

– यूआइटी ने करवाई मुनियादी, लगाया जा रहा है लाल निशान
श्रीगंगानगर। नगर विकास न्यास की ओर से अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाने की तैयारी कर ली गई है। इसी के तहत प्रेमनगर में मुनियादी करवाकर अतिक्रमण चिन्हित किए जा रहे हैं। मंगलवार को प्रेमनगर में एकाएक मुनियादी के बाद उन लोगों में हड़कम्प मचा हुआ है जिन्होंने हाल ही में अपने मकानों के बाहर थड़ों पर दुकानों का निर्माण कर लिया था।
तहसीलदार स्वाति गुप्ता ने बताया कि प्रेमनगर मुख्य मार्ग पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की जायेगी। पायल टाकीज से लेकर बलवंत सिंह की ढाणी तक इस मुख्य मार्ग की पैमाइश के बाद अतिक्रमण चिन्हित किए जा रहे हैं। संभावित कार्यवाही के संबंध में मुनियादी करवाकर अतिक्रमणकारियों से स्वयं ही अवैध निर्माण हटाने के लिए कहा गया है। प्रेमनगर मुख्य मार्ग के वाशिंदों के अनुसार नक्शों में रोड की चौड़ाई 50 फीट है, जबकि वर्तमान में 20 फुट चौड़ी सड़क ही बनी हुई है। सड़क के दोनों ओर बहुत से लोगों ने थड़ों पर दुकाने बनाकर व्यवसायिक गतिविधियां चला रखी हैं।
लगा रहता है जाम
प्रेमनगर मुख्य मार्ग पर सड़क की चौड़ाई अतिक्रमण के कारण काफी कम रह गई है। इसी कारण यहां दिनभर वाहनों का जाम लगा रहता है। सुबह और दोपहर में स्कूली वाहनों की आवाजाही के समय तो स्थिति बहुत ज्यादा बिगड़ जाती है। शाम 6 बजे से रात 9 बजे तक पायल टाकीज से लेकर सांगवान की दुकान तक वाहनों का जाम से लोग परेशान रहते हैं। अब अतिक्रमण हटाये जाने के बाद लोगों को इस समस्या से राहत मिलेगी।