BREAKING NEWS
Search

फर्जी हथियार लाइसेेंस प्रकरण : एसीबी ने 2 आरोपियों की रिपोर्ट मांगी

– न्याय शाखा के कर्मचारियों की मिलीभगत से बनाये गये थे शस्त्र लाइसेेंस
श्रीगंंगानगर। फर्जी हथियार लाइसेंस प्रकरण के मामले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने दो आरोपियों के मामले में हथियार लाइसेंस के निरस्तीकरण के आदेश की रिपोर्ट एसीबी ने मांगी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार श्रीगंगानगर जिले में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर हथियार लाइसेंस पत्र प्राप्त करने के मामले मेें तत्कालीन एडीएम की ओर से कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया गया था। इस मामले में आरोपी लाभार्थियों द्वारा फर्जी दस्तावेज के आधार पर कलक्ट्रेट की न्याय शाखा के कर्मचारियों से मिलीभगत कर शस्त्र लाइसेंस बनवा लिये। बाद में जिला कलक्टर ने इन्हें निरस्त कर दिया। इस मामले में विशिष्ट न्यायाधीश भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम न्यायालय श्रीगंगानगर में अभियुक्तों के विरुद्ध चार्जशीट भी पेश की जा चुकी है। इनमें तीन आरोपियों के विरुद्ध आम्र्स एक्ट में अनुसंधान लम्बित रखा गया बताया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि मोहम्मद हैदर पुत्र मोहम्मद अनवर, देवीलाल चांदना पुत्र मांगीलाल, मोहम्मद सलीम पुत्र मोहम्मद अली निवासी बासनी, जिला नागौर को जारी किये गये शस्त्र अनुज्ञापत्र के निरस्तीकरण के आदेश की प्रति अब एसीबी ने मांगी है, ताकि इस प्रकरण में आगे की कार्यवाही की जा सके। उल्लेखनीय है कि इस प्रकरण में तत्कालीन एडीएम लालचंद ओझा भी लपेटे में आ गये थे।