बालू कारोबारी के यहां छापे में मिले लालू से करोड़ों के लेनदेन के दस्तावेज

पटना। राजद प्रमुख लालू प्रसाद के परिवार के करीबी माने जाने वाले बालू कारोबारी सुभाष यादव के यहां आयकर विभाग की छापेमारी में ऐसे दस्तावेज मिले हैं, जिनसे पता चलता है कि राजद प्रमुख के परिवार के सदस्यों के साथ उसका करोड़ों का लेनदेन था। आयकर विभाग की टीम ने बिहार में ‘बालू किंग,के नाम से जाने जाने वाले सुभाष प्रसाद यादव के पटना और दिल्ली समेत कुल एक दर्जन ठिकानों पर शुक्रवार को छापेमारी की। बरामद दस्तावेजों से यह पता चलता है कि सुभाष यादव ने अपनी फर्जी कंपनियों के माध्यम से करोड़ों रुपये का लेनदेन लालू प्रसाद और उनके परिवार के सदस्यों के साथ किया है। आयकर विभाग के सूत्रों के अनुसार शुक्रवार को सुभाष प्रसाद यादव के पटना के चार दिल्ली के पांच, आरा, वाराणसी और हजारीबाग के एक-एक ठिकानों पर छापे मारे गए। देर शाम तक आयकर विभाग की कार्रवाई जारी थी। आयकर विभाग को 15 लाख रुपये नकद भी मिले हैं। सुभाष यादव की फर्जी कंपनियों का भी पता चला है। फर्जी कंपनियों से संबंधित बैंक खातों की पड़ताल की जा रही है। मनी लांड्रिंग के प्रमाण भी मिले हैं। वह इन्हीं फर्जी कंपनियों के नाम पर कालेधन को सफेद बना रहा था। इन कंपनियों के कार्यालय में पड़े छापे आयकर विभाग ने बंशीधर कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड, मुरलीधर इंडेन प्राइवेट लिमिटेड, मोर मुकुट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड, ज्ञान इंफ्राबिल्ड प्राइवेट लिमिटेड, एनसी इंटरप्राइजेज, राहुल कंपनीज के कार्यालयों को खंगाला। पटना में आयकर विभाग की टीम ने लालू प्रसाद के बेली रोड के समीप स्थित मरछिया देवी कॉम्प्लेक्स में सुभाष यादव के आवासीय परिसर के साथ दीघा, दानापुर स्थित दफ्तर को भी खंगाला।