बीसीसीआई में सेटिंग नहीं थी, इसलिए नहीं बन पाया टीम इंडिया का कोच: सहवाग

नई दिल्ली। अपनी तूफानी बल्लेबाजी से बड़े-बड़े गेंदबाजों को परेशान करने वाले भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है, जिस पर बवाल खड़ा हो सकता है। सहवाग से जब पूछा गया कि आप टीम इंडिया के हेड कोच क्यों नही बन पाएं। इस सवाल पर सहवाग ने कहा कि उनकी बीसीसीआई में कोई सेटिंग नहीं थी, इसलिए वो टीम इंडिया के हेड कोच नहीं बन पाए। साथ ही उन्होंने कहा कि वो दोबारा टीम इंडिया के कोच पद के लिए अप्लाई नहीं करेंगे। एक चैनल को दिए इंटरव्यू में वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि मैंने अपनी मर्जी से नहीं, बल्कि बीसीसीआई के मेंबर्स के कहने के बाद इस पोस्ट के लिए अप्लाई किया था। वीरेंद्र सहवाग ने कहा, देखिए मैं कोच इसलिए नहीं बन पाया, क्योंकि जो भी कोच चुन रहे थे उनसे मेरी कोई सेटिंग नहीं थी। मैंने कभी टीम इंडिया का कोच बनने के बारे में नहीं सोचा था। बीसीसीआई के सेक्रेटरी अमिताभ चौधरी और जीएम (गेम डिवेलपमेंट) एम.वी. श्रीधर मेरे पास आए और मुझसे ऑफर के बारे में विचार करने के लिए कहा। मैंने अपना वक्त लिया और उसके बाद इस पद के लिए अप्लाई किया। उन्होंने कहा इससे पहले मैंने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से भी इस बारे में विचार-विमर्श किया था।