BREAKING NEWS
Search

बैंकरों पर क्रिमिनल केस में भारतीय बैंक असोसिएशन को आ रही ‘साजिश की बू

मुंबई। भारतीय बैंक असोसिएशन ने कई बैंकरों को अरेस्ट करने और उनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की जांच एजेंसियों की कार्रवाई की निंदा की है । ढ्ढक्च्र ने शुक्रवार को मुंबई में इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई है। इस मीटिंग में जांच एजेंसियों के कदमों पर चर्चा की जाएगी। आईबीए के सीईओ और एसबीआई के फॉर्मर ऑफिशल वी.जी. कन्नन ने कहा, ‘लोन मंजूर करने के लिए बैंकरों पर क्रिमिनल केस करना बेतुकी बात है। हमने यह मामला दिल्ली में फाइनैंशल सर्विसेज डिपार्टमेंट और यहां महाराष्ट्र सरकार के सामने उठाया है। दोनों कह रहे हैं कि उन्हें नहीं पता कि ये गिरफ्तारियां क्यों की गईं। उन्होंने सहयोग का वादा किया है। हम शुक्रवार को मीटिंग में अपने कदम के बारे में चर्चा करेंगे।Ó बुधवार को पुणे पुलिस की इकनॉमिक ऑफेंस विंग ने बैंक ऑफ महाराष्ट्र के सीईओ रवींद्र मराठे, फॉर्मर एमडी सुशील मनोत, एग्जिक्युटिव डायरेक्टर राजेंद्र गुप्ता और दो अन्य बैंक अधिकारियों को अरेस्ट किया था। ये गिरफ्तारियां रियल एस्टेट डिवेलपर डीएस कुलकर्णी से सांठगांठ कर पैसा डायवर्ट करने और शेयरहोल्डर्स को धोखा देने के आरोप में की गईं। मराठे और मनोत पर ऐक्शन से पहले जांच एजेंसियों ने कई अन्य बैंकरों पर भी ऐक्शन लिया था।