ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा के लिये थीम सॉन्ग की रचना की

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शहर की लोकप्रिय पूजा के लिये थीम सॉन्ग की रचना की है। महानगर के समुदायों में होने वाली पूजा में थीम सॉन्ग एक नया चलन बनकर उभरा है। गीत ”बोईचित्रेर मुक्तॉय गांथा एकोतार मोनिहार,, (विविधता की मोतियों में गुंथा एकता का गहना) – ‘सुरूचि संघ, पूजा में बजाया जा रहा है। गायिक श्रेया घोषाल ने इस थीम सॉन्ग के लिये अपनी आवाज दी है और इसे सुरबद्ध किया है जीत गांगुली ने। मुख्यमंत्री ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर थीम सॉन्ग का वीडियो पोस्ट किया और अपने ट्विटर हैंडल पर इसका लिंक साझा किया। मुख्यमंत्री इससे पहले भी ‘सुरूचि संघ, के लिये गीत लिख चुकी हैं। संगीतकार एवं गायक जीत गांगुली पिछले कुछ वर्ष से सुरूचि संघ की पूजा के थीम सॉन्ग के लिये संगीत की रचना कर रहे हैं। सुरूचि संघ के साथ ‘संगीतमय मेल, के बारे में हाल में पूछे जाने पर गांगुली ने पीटीआई-भाषा को बताया था, ”मैं उनके साथ जुड़ा हूं और हर बंगाली दुर्गा पूजा उत्सवों से जुड़ाव महसूस करता है।,, जैसा कि दुर्गा पूजा समितियों के साथ थीम संगीत भी लोकप्रिय हो रहे हैं, ऐसे में अभिनेता सौमित्र चटर्जी ने भी इनके लिये कुछ पंक्तियां लिखी हैं। उनका गीत ‘अमी सेई दिगांतो पेरिये आसा उत्तराधिकार, (मैं युग युगांतर से चलता आ रहा हूं, मैं ही वो मशाल धारक हूं) गीत ‘कुमारतुली सरबोजोनिन, में बजाया जा रहा है। उन्होंने कहा, ”गीत की ये पंक्तियां बंगाल के मूर्तिकारों की कथा का सुरबद्ध दर्पण है।,,