महावीर दल को दशहरा के लिए जगह का टोटा

– नगर परिषद तैयारी में जुटी लेकिन महावीर दल अभी स्थान ही ढूंढ रहा
श्रीगंगानगर। शहर में पहली बार दशहरा उत्सव मनाने जा रही नगर परिषद तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटी है, वहीं 85 वर्ष से रामलीला मैदान में दशहरे का आयोजन करने वाली संस्था सनातन धर्म महावीर दल को अभी तक स्थान हीउपलब्ध नहीं हो पाया है।
रामलीला मैदान में नगर परिषद के आयोजन की तैयारियों के चलते महावीर दल ने नई धानमण्डी में दशहरा का आयोजन करने पर विचार किया, लेकिन मण्डी में नरमा-कपास का सीजन होने के कारण अनुमति मिल पाना संदिग्ध है। हालांकि संस्था की ओर से मण्डी समिति कार्यालय में अनुमति के लिए अभी आवेदन नहीं किया गया है।
रामलीला मैदान में दशहरा उत्सव के लिए नगर परिषद की ओर से श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी को सारी जिम्मेदारी सौंप दी गई है। सभापति अजय चाण्डक ने बताया कि रामलीला कमेटी की देखरेख में गणेश टाकीज के पास रावण परिवार के पुतलों का निर्माण चल रहा है। उन्होंने बताया कि रामलीला मैदान में शहर की जनता दशहरा मनायेगी, जहां वीआईपी लोगों के लिए तो मंच होगा ही, शहर के मौजिज लोगों, जन प्रतिनिधियों, व्यापारी नेताओं व पार्षदों के लिए भी विशेष प्रबंध किये जायेंगे। आमंत्रण में किसी तरह का भेदभाव नहीं होगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए बाहर से कलाकारों को बुलाया जायेगा।
महावीर दल की ओर से भी दशहरा उत्सव के लिए रावण, कुम्भकरण और मेघनाद के पुतलों को तैयार करवाया जा चुका है। अब इन पुतलों का दहन कहां किया जाये, इसके लिए विचार-विमर्श चल रहा है। जैसे ही प्रशासन की ओर से महावीर दल को दशहरा आयोजन के लिए स्थान उपलब्ध करवा दिया जायेगा, वे तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर देंगे।
इनका कहना है
जब तक दशहरा आयोजन के लिए कोई स्थान उपलब्ध नहीं हो जाता, तब तक कुछ भी नहीं कहा जा सकता। पदाधिकारियों में विचार-विमर्श चल रहा है। – सीताराम शेरेवाला, कोषाध्यक्ष, महावीर दल
कुछ दिन पहले दशहरा आयोजन पर व्यापारियों में चर्चा चल रही थी। मण्डी में आयोजन का जिक्र भी हुआ था, लेकिन व्यापारियों ने ही नरमा-कपास का सीजन बताते हुए इसे सम्भव नहीं माना था। अभी तक कोई आवेदन नहीं आया है। यदि आवेदन आता भी है तो अनुमति देना संभव नहीं होगा। – शिवसिंह भाटी, सचिव, मण्डी समिति
पांच-सात दिन पहले महावीर दल के पदाधिकारियों के साथ मण्डी समिति सचिव से मिले थे। उन्होंने नवरात्रों में नरमा-कपास का सीजन शुरू होने और आग लगने की आशंका रहने के कारण मण्डी में दशहरा आयोजन के लिए अनुमति देने से इन्कार कर दिया था। – रमेश खदरिया, अध्यक्ष गंगानगर टे्रडर्स एसोसिएशन
कामदेव भंग करेंगे नारद का ध्यान: श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी की ओर से गोपीराम गोयल की बगीची में गुरुवार रात्रि 8 बजे से शुरू की जा रही रामलीला में पहले दिन कामदेव द्वारा नारद का ध्यान भंग करने का दृश्य मंचित किया जायेगा। इसी के साथ भगवान विष्णु नारद का अभिमान तोडऩे के लिए शीलनगर की स्थापना करेंगे। कमेटी अध्यक्ष कृष्ण गुनेजा ने बताया कि रामलीला उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री राधेश्याम गंगानगर, समाजसेवी अशोक चांडक, जयदीप बिहाणी, श्रीकृष्ण लीला, विधायक कामिनी जिन्दल एवं पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर होंगे।