मांगों को लेकर कृषि पर्यवेक्षक बैठे धरने पर

श्रीगंगानगर। प्रारंभिक पे ग्रेड 3600 करने सहित अन्य मांगों को लेकर अब कृषि पर्यवेक्षक धरने पर बैठ गए हैं। अखिल राजस्थान राज्य कृषि पर्यवेक्षक संगठन की जिला शाखा के नेतृत्व मेंं जिला कलक्टर के मार्फत मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी प्रेषित किया गया। शाखा के जिलाध्यक्ष शंकरदास दुग्गल ने बताया कि जिला कलक्टर को सौंपे गए ज्ञापन में प्रारंभिक पे ग्रेड 3600 करके 7वें वेतन आयोग में उसी अनुसार पे-मेट्रिक्स में पे-लेवल निर्धारित करने, नए कृषि पर्यवेक्षक का न्यूनतम प्रारंभिक वेतन कम नहीं करने, रोकी गई वेतन वृद्धि पुन: शुरू करने, कृषि पर्यवेक्षक व सहायक कृषि अधिकारी का पदोन्नति कोटा 60 प्रतिशत करने, कृषि पर्यवेक्षक व सहायक कृषि अधिकारी का अनुपात 1:4 करने, राज्य सरकार के निर्णय अनुसार कृषि विस्तार योजना में प्रत्येक ग्राम पंचायत में कृषि पर्यवेक्षक का पद सृजित करने, उद्यान विभाग में सहायक कृषि अधिकारी व कृषि पर्यवेक्षक के पदों का सृजन करने और राजस्थान लोक सेवा आयोग से सहायक कृषि अधिकारी की सीधी भर्ती में विभाग में कार्यरत कृषि स्नातक कृषि पर्यवेक्षक को 15 प्रतिशत कोटा देकर सीधी भर्ती परीक्षा में शामिल करने की मांग शामिल है।